139,139+ Members
   Get Started   Latest Posts Search Today's Posts Mark Forums Read
IREF® Real Estate in India - Property Discussion
IREF® - Indian Real Estate Forum > Real Estate in India > Real Estate Ghaziabad > GZB is BEST for Investment - NT NEWS
Reply
 
LinkBack Thread Tools Search this Thread
Old September 17 2011, 06:28 PM   #1
Ex-Moderator
 
saurabh2011's Avatar
 
Join Date: Jan 2011
Posts: 5,530
Likes Received: 1027
Likes Given: 560
Default GZB is BEST for Investment - NT NEWS

इन्वेस्टमेंट के लिए बेस्ट गाजियाबाद (Logical News with Facts not Builders Paid NEWS)
17 Sep 2011, 0400 hrs IST,हेलो दिल्ली

GZB is BEST for Investment - Navbharat Times


आईटी व इंस्टिट्यूशनल प्रॉजेक्ट्स और रीयल एस्टेट बूम के नजरिए से विश्व में छठा सबसे हॉट शहर चुना जा चुका गाजियाबाद बांग्लादेश से अफगानिस्तान को जोड़ने वाली ग्रैंड ट्रंक रोड पर बसा है। राष्ट्रीय राजधानी से इसकी कनेक्टिविटी बेहद शानदार है। इतना ही नहीं, नजदीकी नोएडा को टक्कर देने के लिए भी इसके डिवेलपमेंट पर इन दिनों खासा ध्यान दिया जा रहा है।

कम किराए पर रहने की सुविधा
दिल्ली में रेजिडेंशल और कमर्शल स्पेस की अधिक कीमत और ज्यादा किरायों के चलते एंड यूजर्स और इन्वेस्टर्स ने गाजियाबाद का रुख करना शुरू किया था। मजबूरी का यह ट्रेंड अब पसंद बन गया है। यह इलाका न सिर्फ इन्वेस्टमेंट के लिए हॉट डेस्टिनेशन है, बल्कि दिल्ली से भी सीधे जुड़ा हुआ है। यहां मेट्रो की दस्तक ने गाजियाबाद के प्रॉपर्टी बाजार को बेहद हॉट बना दिया है। आज लोग दिल्ली के महंगे किरायों से बचने के लिए किराये जितनी ईएमआई पर गाजियाबाद में अपना घर खरीद रहे हैं। यह ट्रेंड कॉमन हो गया है कि लोग जॉब दिल्ली में करते हैं और रहते गाजियाबाद में हैं। इस ट्रेंड ने गाजियाबाद को इतना हॉट बना दिया है कि यह व्यवहार में दिल्ली का ही हिस्सा मान लिया गया है।

दिल्ली से सटा
गाजियाबाद दिल्ली से एकदम सटा होने के कारण यह ज्यादा से ज्यादा लोगों का पसंदीदा बना हुआ है। रीयल एस्टेट के नजरिए से गाजियाबाद के हॉट इलाके ट्रांस हिंडन एरिया में बसे हुए हैं, जिनका कल्चर भी पुराने गाजियाबाद की बजाय दिल्ली से ज्यादा प्रभावित है। इन इलाकों में वसुंधरा, वैशाली, इंदिरापुरम, शिप्रा सनसिटी, कौशांबी आदि शामिल हैं। इनमें रेजिडेंशल मार्केट ने नई ऊंचाइयां देखी हैं। दिल्ली के आनंद विहार के नजदीक कौशांबी में प्रॉपर्टी के रेट आज दिल्ली से कम नहीं हैं। इस जगह को बेहद पॉश माना जाता है। वहीं, इंदिरापुरम में पिछले कुछ बरसों में प्रॉपर्टी की डिमांड काफी तेजी से बढ़ी है।

रीटेल में भी बूम
गाजियाबाद में इन दिनों मॉल कल्चर भी तेजी से बढ़ रहा है। कह सकते हैं कि जितनी तेजी से रेजिडेंशल प्रॉजेक्ट्स बन रहे हैं, उतनी ही तेजी से मॉल्स की संख्या भी बढ़ रही है। टाउनशिप और बड़े ग्रुप हाउसिंग प्रॉजेक्ट्स में तो मॉल भी जरूरी हिस्सा बन गए हैं।

कमर्शल स्पेस की कमी नहीं
दिल्ली और नोएडा से बेहद नजदीकी और वहां के मुकाबले सस्ता होने के कारण गाजियाबाद कमर्शल स्पेस के कस्टमर्स को चुंबक की तरह खींचता है। ऑफिस स्पेस की हॉट जगहों में कौशांबी, वैशाली, मोहन नगर और वसुंधरा का नाम लिया जा सकता है। गाजियाबाद में मेट्रो की दस्तक के बाद रेजिडेंशल के साथ-साथ ऑफिस स्पेस की भी डिमांड बढ़ी है। गाजियाबाद में कमर्शल स्पेस की मांग दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है।

कनेक्टिविटी में तेजी से सुधार
कहते हैं कि रीयल एस्टेट का बाजार कनेक्टिविटी के इर्द-गिर्द घूमता है। ऐसे में अगर किसी जगह की कनेक्टिविटी सुधारने की बात हो, तो वह खुद-ब-खुद रीयल एस्टेट के नक्शे पर उभर जाता है।

एक्सप्रेस-वे: जीडीए गाजियाबाद को दूसरी कई जगहों से जोड़ने के लिए एक्सप्रेस-वे की कुछ योजनाओं पर काम कर रहा है। कई चर्चित एक्सप्रेस-वे गाजियाबाद से भी होकर गुजरेंगे, जिससे यहां की कनेक्टिविटी और बेहतर होगी। इनके तहत, मेरठ एक्सप्रेस-वे, ईस्टर्न पेरिफर्ल एक्सप्रेस-वे, नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे, ताज एक्सप्रेस-वे, अपर गंगा एक्सप्रेस-वे, दादरी-हापुड़ एक्सप्रेस-वे, गंगा एक्सप्रेस-वे आदि शामिल हैं।

फ्लाईओवर: जीडीए जाम के लिए बदनाम कई चौराहों पर फ्लाईओवर बनाने की भी योजना बना रहा है, जिससे ट्रैफिक स्मूथ किया जा सके। हिंडन नदी पर 200 मीटर के दायरे में करीब 24 करोड़ की लागत से 3 नए पुल बनाए जाएंगे। साथ ही, हापुड़ क्रॉसिंग व मेरठ क्रॉसिंग जैसी बिजी रोड्स पर ट्रैफिक का फ्लो संभालने के लिए करीब 77.70 किमी. के दायरे में लगभग 308 करोड़ रुपये की लागत से फ्लाई ओवर बनाए जाएंगे। डाबर लिंक रोड, एनएच 24 और एनएच 58 को चौड़ा भी किया जाना है।

लिंक रोड: एनएच 24 पर एबीईएस इंजिनियरिंग कॉलेज के पास से क्रॉसिंग सिटी होकर ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे और ताज एक्सप्रेस-वे तक ढाई किलोमीटर लंबी लिंक रोड बनाने का भी प्रस्ताव है। इस पर करीब 12 करोड़ रुपये की लागत आएगी, जिसे जीडीए और ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी दोनों शेयर करेंगे।

 
".Ghaziabad.", ".Uttar Pradesh."India