If you missed out on the Delhi Development Authority’s (DDA) housing scheme but were put on the waiting list, there is a good chance you can still get your dream house. The verification of successful applicants is on and the DDA is every day receiving applications from allottees who want to surrender their flats. The number of such applications will be close to 200 in about a week, DDA sources said. This apart, allottees who fail to make it past the verification process will be disqualified.

Under the scheme, the DDA — the country’s biggest land development agency — offered 16,000 flats. A draw of lots was held on April 18 to choose the lucky ones from 7.5 lakh applicants. Another draw was held the same day and 600 applicants were put on the waiting list.

“The number of people surrendering flats on their own is surprisingly high this time. We are receiving about two such applications every day,” said a senior DDA official.

“Along with the surrendered flats and the allotments that might be cancelled after verification, we would be able to accommodate a sizeable number of applicants in the waiting list,” the official said.

Explaining the high number of allottees willing to give up flats, the official said: “This time, the norms are much more stringent. Many applicants, it seems, are unable to comply with them.”

One of the new conditions is that the allotment money must to be from the allottee’s bank account. Also, documents will be verified by the income tax department and the source of the money has to be disclosed.

DDA houses still within reach - Hindustan Times
Read more
Reply
3 Replies
Sort by :Filter by :
  • fritolay...I see all your posts.... you are the best!
    An asset to the IREF!
    Best Regards
    CommentQuote
  • डीडीए स्कीम: वेटिंग लिस्ट वालों के लिए आस


    अगर डीडीए हाउसिंग स्कीम में आपका फ्लैट निकला है और अभी तक आपने वेरिफिकेशन नहीं कराया है तो देर न करें। वेरिफिकेशन के डॉक्युमेंट्स जमा कराने के लिए अब सिर्फ तीन दिन ही बचे हैं। सभी सफल आवेदकों को वेरिफिकेशन के लिए डीडीए ऑफिस में जरूरी डॉक्युमेंट्स जमा करने हैं, जिसकी आखिरी तारीख 30 जून है। आखिरी तारीख नजदीक आते ही डीडीए ऑफिस में भीड़ भी बढ़ गई है। 16 हजार सफल आवेदकों में से करीब 80 पर्सेंट डॉक्युमेंट्स जमा करा चुके हैं। काफी लोग फ्लैट वापस भी कर रहे हैं जिससे वेटिंग लिस्ट वालों के लिए घर पाने की उम्मीद बढ़ गई है।

    डीडीए ने वेरिफिकेशन डॉक्युमेंट्स जमा कराने के लिए विकास सदन में शुरू में 2 काउंटर बनाए थे लेकिन अब लोगों की भारी भीड़ देखते हुए 9 काउंटर बनाए गए हैं। जिनमें से एक सीनियर सिटीजन और एक महिलाओं के लिए है। डॉक्युमेंट्स जमा कराने आए लोगों ने बताया कि यहां कोई दिक्कत नहीं हो रही है लेकिन वह डीडीए की तरफ से कोई लेटर न मिलने से नाराज दिखे। आर. के. गुप्ता ने कहा कि मेरा रोहिणी ने फ्लैट निकला है। मैं डीडीए की तरफ से वेरिफिकेशन लेटर का इंतजार करता रहा लेकिन मुझे लेटर नहीं मिला। मैंने दो बार डीडीए के चक्कर भी लगाए, कुछ नहीं हुआ। मुझे डर सता रहा था कि वेरिफिकेशन लेटर नहीं आया है इसका मतलब कहीं यह तो नहीं कि मुझे फ्लैट नहीं मिलेगा। फिर बाद में जब डीडीए ऑफिस आया तो यहां बताया गया कि बिना लेटर मिले ही 30 जून तक आकर वेरिफिकेशन के लिए डॉक्युमेंट्स जमा करा सकते हैं।

    कई सफल आवेदक फ्लैट वापस करने भी आ रहे हैं। डिमांड लेटर जारी होने से पहले फ्लैट वापस करने पर कोई भी शुल्क नहीं लगता और डीडीए उन आवेदकों को उनकी रजिस्ट्रेशन मनी वापस कर देगा। डिमांड लेटर जारी होने के बाद फ्लैट वापस करने पर शुल्क लगता है। जो वक्त के हिसाब से 1000 रुपये से लेकर 1 लाख तक है। डीडीए अधिकारी ने बताया कि इस बार ज्यादा लोग फ्लैट वापस कर रहे हैं। इसकी वजह यह है कि हमने काफी सख्त नियम बनाए हैं। पहले लोग फ्लैट निकलने पर उसे प्रॉपर्टी डीलर को बेच देते थे लेकिन इस बार हमने यह शर्त जोड़ी है कि पूरी राशि आवेदक के अकाउंट से ही आनी चाहिए। फ्लैट वापस होने से वेटिंग लिस्ट वालों की उम्मीद बढ़ गई है। डीडीए ने 600 लोगों की वेटिंग लिस्ट जारी की है। लेकिन वेटिंग लिस्ट में नाम होने पर भी आपको फ्लैट पाने के लिए लकी होना पड़ेगा क्योंकि आपको वही फ्लैट मिलेगा जो आपने अपनी प्रायॉरिटी में भरा है। अगर वह फ्लैट वापस नहीं हुआ है तो आपको फ्लैट नहीं मिल पाएगा। इस तरह फिर कोई फ्लैट बच जाएगा तो उसे अगली हाउसिंग स्कीम में शामिल कर दिया जाएगा।

    -Navbhrat times
    CommentQuote
  • Good news for DDA waiting list guys
    Attachments:
    CommentQuote