http://navbharattimes.indiatimes.com/de ... 941162.cms

मास्टर रोड का सर्वे और डिजाइन तैयार
22 Jun 2011, 0400 hrs IST

नहर पार विकसित हो रहे ग्रेटर फरीदाबाद की रफ्तार तेज होने वाली है। दरअसल , मास्टर रोड के लिए काफी दिनों से चल रहा इंजीनियरिंग सर्वे पूरा हो गया है। इसमें मास्टर रोड की लेवलिंग और अलाइनमेंट की जांच की गई है। इसका डिजाइन भी तैयार हो चुका है। इस महीने के अंत तक सर्वे की रिपोर्ट और डिजाइन दोनों हूडा अफसरों को मिल जाएंगे। इसके बाद मास्टर रोड के टेंडर जारी कर जल्द से जल्द इसका निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा।

हूडा एक्सईएन ए . के . माकन ने बताया कि सर्वे पूरा हो गया है और मास्टर रोड का डिजाइन भी तैयार है। दोनों इस महीने के अंत तक हमारे पास जा जाएंगे। उन्होंने बताया कि जुलाई के पहले हफ्ते में मास्टर रोड और अन्य सुविधाओं के लिए टेंडर की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। जल्द रोड का निर्माण कार्य भी शुरू कर दिया जाएगा।

गौरतलब है कि ग्रेटर फरीदाबाद में 7500 एकड़ जमीन पर डिवेलपमेंट कार्य हो रहा है। इसमें से 2500 एकड़ जमीन पर प्राइवेट बिल्डर हाउसिंग प्रोजेक्ट बना रहे हैं और 5000 एकड़ जमीन पर हूडा अपने नए सेक्टर डिवेलप कर रहा है। इन सभी सेक्टरों और हाउसिंग प्रोजेक्टों को जोड़ने के लिए यहां मास्टर रोड का निर्माण किया जा रहा है। रोड के निर्माण के साथ - साथ सीवर और पानी की लाइनें बिछाने और बिजली का काम भी हूडा यहां शुरू कर देगा।
Read more
Reply
11 Replies
Sort by :Filter by :
  • I think HUDA is planning to sell out remaining land of Nehar Par in the form of plots to indivisuals at higher prices. That is the reason they are intrested in releasing such statements.

    They can sell out good number of application forms only by such statements. Lets see if they are really sincere this time.
    CommentQuote
  • Master Roads and services in Neharpar

    Originally Posted by nkg_8
    I think HUDA is planning to sell out remaining land of Nehar Par in the form of plots to indivisuals at higher prices. That is the reason they are intrested in releasing such statements.

    They can sell out good number of application forms only by such statements. Lets see if they are really sincere this time.


    Hi
    greetings

    It looks that the boss is very unhappy and is assertive of the job to be completed by march 2012 including electricity, sewerage, master roads and other external services. These have been extraordinarily delayed causing widespread public unrest and continuous effort by the members of certain groups in Faridabad/Greater Faridabad..
    Still since it is govt work, how long it might take is anybodies guess..

    Check minutes of meeting of Chief Financial Commissioner held recently in one of the links. The undertone was fiery but very very positive from developmental perspective..


    Cheers
    CommentQuote
  • Land acquisition

    Has land acquisition been comleted.....? If not then what is the use of this plan.....i had read somewhere that it's almost 95% complete....any further update members...?:bab (35):

    As per minutes of meeting of Chief Financial Commissioner..it was supposed to be completed by 15th June 2011
    CommentQuote
  • ??? ???? ?? ??????? ??? ??? ?? ???????????- Navbharat Times

    एनबीटी न्यूज ॥ फरीदाबाद

    ग्रेटर फरीदाबाद के इनवेस्टर्स बिल्डरों की मनमानी से परेशान होकर फिर सीएम से मिलने की योजना बना रहे हैं। इसके अलावा , पिछले दिनों बढ़ाए गए ईडीसी ( एक्सटर्नल डिवेलपमेंट चार्ज ) के विरोध में उन्होंने कोर्ट जाने की तैयारी कर ली है।

    ग्रेटर फरीदाबाद वेलफेयर असोसिएशन के लोग काफी समय से अपना आशियाना मिलने का इंतजार कर रहे हैं। इसके लिए प्रशासन से भी कई बार गुहार लगाने के अलावा प्रदर्शन भी किए गए हैं , लेकिन कुछ नहीं हुआ। अब ये लोग फिर सीएम से मिलने की योजना बना रहे हैं। असोसिएशन के एक सदस्य अजय यादव का कहना है कि पिछले दिनों भी हम सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा से मिले थे। उन्होंने फरीदाबाद डीसी को आदेश दिए थे कि जल्द से जल्द इनवेस्टर्स की समस्याओं का निवारण किया जाए। इसके लिए डीसी ने भी पिछले दिनों बिल्डरों से मीटिंग की थी , लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकल पाया। इसलिए हमने फिर सीएम से मिलने की योजना बनाई है। हमने उनसे टाइम भी ले लिया था , लेकिन उन्हें किसी जरूरी काम से बाहर जाना पड़ा। इसलिए मीटिंग नहीं हो पाई। हम उनसे फिर अपनी समस्याओं के बारे में बताएंगे। अजय ने बताया कि नहर पार डिवेलपमेंट कर रहे हाउसिंग प्रोजेक्टस में हमने 2006 में पैसा लगाया था। उस समय बिल्डरों का कहना था कि 2009 तक सभी को पजेशन मिल जाएगी , लेकिन 2011 होने के बावजूद अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

    अजय यादव ने बताया कि पिछले दिनों बढ़ाए गए ईडीएस के विरोध में भी हम कोर्ट जाएंगे। इसके लिए हमने पूरी तैयारी कर ली है। जल्द ही कोर्ट में अपना केस दायर कर देंगे। उन्होंने बताया कि अभी तक 150 रुपये प्रति स्क्वायर फीट के हिसाब से ईडीसी लिया जाता था , लेकिन अब 107 रुपये और बढ़ा दिया गया है। नहर पार अभी कोई डिवेलपमेंट नहीं हुआ है और ऊपर से ईडीसी बढ़ जाने के बाद हम पर बोझ और भी बढ़ गया है।
    CommentQuote
  • Originally Posted by Panky4u
    ??? ???? ?? ??????? ??? ??? ?? ???????????- Navbharat Times

    एनबीटी न्यूज ॥ फरीदाबाद

    ग्रेटर फरीदाबाद के इनवेस्टर्स बिल्डरों की मनमानी से परेशान होकर फिर सीएम से मिलने की योजना बना रहे हैं। इसके अलावा , पिछले दिनों बढ़ाए गए ईडीसी ( एक्सटर्नल डिवेलपमेंट चार्ज ) के विरोध में उन्होंने कोर्ट जाने की तैयारी कर ली है।

    ग्रेटर फरीदाबाद वेलफेयर असोसिएशन के लोग काफी समय से अपना आशियाना मिलने का इंतजार कर रहे हैं। इसके लिए प्रशासन से भी कई बार गुहार लगाने के अलावा प्रदर्शन भी किए गए हैं , लेकिन कुछ नहीं हुआ। अब ये लोग फिर सीएम से मिलने की योजना बना रहे हैं। असोसिएशन के एक सदस्य अजय यादव का कहना है कि पिछले दिनों भी हम सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा से मिले थे। उन्होंने फरीदाबाद डीसी को आदेश दिए थे कि जल्द से जल्द इनवेस्टर्स की समस्याओं का निवारण किया जाए। इसके लिए डीसी ने भी पिछले दिनों बिल्डरों से मीटिंग की थी , लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकल पाया। इसलिए हमने फिर सीएम से मिलने की योजना बनाई है। हमने उनसे टाइम भी ले लिया था , लेकिन उन्हें किसी जरूरी काम से बाहर जाना पड़ा। इसलिए मीटिंग नहीं हो पाई। हम उनसे फिर अपनी समस्याओं के बारे में बताएंगे। अजय ने बताया कि नहर पार डिवेलपमेंट कर रहे हाउसिंग प्रोजेक्टस में हमने 2006 में पैसा लगाया था। उस समय बिल्डरों का कहना था कि 2009 तक सभी को पजेशन मिल जाएगी , लेकिन 2011 होने के बावजूद अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

    अजय यादव ने बताया कि पिछले दिनों बढ़ाए गए ईडीएस के विरोध में भी हम कोर्ट जाएंगे। इसके लिए हमने पूरी तैयारी कर ली है। जल्द ही कोर्ट में अपना केस दायर कर देंगे। उन्होंने बताया कि अभी तक 150 रुपये प्रति स्क्वायर फीट के हिसाब से ईडीसी लिया जाता था , लेकिन अब 107 रुपये और बढ़ा दिया गया है। नहर पार अभी कोई डिवेलपमेंट नहीं हुआ है और ऊपर से ईडीसी बढ़ जाने के बाद हम पर बोझ और भी बढ़ गया है।


    Builders are hard nuts to crack.Meetings with DC or HUDA officials are not going to help.Filing court cases against the builders is the only remedy.:bab (45):
    CommentQuote
  • Naher Par development - RTI

    Please check out latest RTI response from HUDA regarding NP development......I must say they HUDA has given a very vague answer. On one hand they saying acquisition is complete and handover is given to them but they can not start work till everything is litigation free. Today there might be some litigation from farmers and they will wait 2-3 year for it to resolve.....once they are resolved what is the guaranty that their might not be fresh litigation then for say illegal encroachment on acquire land....this is very bad project management.:bab (58):
    Attachments:
    CommentQuote
  • development 3 years after land is litigation free

    Hi Rajeev
    Greetings

    Great effort to extract this bit of information from the authorities.. I would firstly appreciate the rightful approach that you have chosen to get the information
    Now it becomes clear that the land acquired and handed over to Huda is not litigation free and once it is litigation free it will take a further 3 years for the external infra to be done?
    So practically, it will be inhabitable only in 2015 or beyond. Then what is the point of increasing the EDC/IDC, significance of Chief Commercial Secretaries meeting and the deadlines given therein??.
    How many acres of land is required for the entire external development? How much has been acquired?
    how many acres are under litigation? will the Authorities (Haryana Under Development Authority) wait till the entire area is litigation free or will start developing portions of it which are acquired and litigation free?

    What a mess:bab (45):

    Cheers
    CommentQuote
  • Proceedings of the Review Meeting of Faridabad Zone

    Some +ve development. It's a huge relife to know that HUDA is not the direct party to the litigation on land acquired by HUDA so leagal cases would be among farmers over land title. I believe a new RTI should be filed to get current update about NP development estimation.
    CommentQuote
  • Originally Posted by dtw_Rajeev
    Some +ve development. It's a huge relife to know that HUDA is not the direct party to the litigation on land acquired by HUDA so leagal cases would be among farmers over land title. I believe a new RTI should be filed to get current update about NP development estimation.


    its a good news 4 faridabadies
    CommentQuote
  • Rajeev>> this really some some ray of light at least some thing is happening..however it is now around 4 months old.
    "
    FCTCP directed STP/DTP that the land of colonizers after
    demarcation may be handed over to the Engineering wing within a week.
    "
    whether this really happened in last 4 months and what is the next action after this handover is unknown. apprppriate RTI is critical to bring forward facts.
    CommentQuote
  • Originally Posted by vkbans
    Rajeev>> this really some some ray of light at least some thing is happening..however it is now around 4 months old.
    "
    FCTCP directed STP/DTP that the land of colonizers after
    demarcation may be handed over to the Engineering wing within a week.
    "
    whether this really happened in last 4 months and what is the next action after this handover is unknown. apprppriate RTI is critical to bring forward facts.


    These are pretty old news. Most of the higher officials have now been transferred, including old DC. The new DC will take time to understand and act on the situation unless pressurised though protests.

    Article on new DC
    ??????????, ????, ????? ?? ?????? ?? ???? ????-????????-??????-Navbharat Times

    Pics of protest against HUDA & Administration on 13-Nov
    Gallery - Protest against HUDA and District Administration 13 Nov 2011 - Myfaridabad Community Portal
    CommentQuote