Announcement

Collapse
No announcement yet.

Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

Collapse
X
Collapse

Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

Last updated: January 11 2019
50 | Posts
7924 | Views
  • Time
  • Show
Clear All
new posts

  • Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

    Finally things seem to be moving in Right Direction for Neharpar Home seekers finally. According to an Article in Dainik Bhaskar, 2 Directors from Pal Group have been arrested for Allegedly taking crores of Money from Investors and not giving them Flats for the money paid by them.

    I am not 100% sure but I think this Arrest order has been issued by High court and Directors have been ordered to either pay back money or give flats to the Investors.

    In an Interview with DSP he accepted that there are thousands of cases pending in Neharpar area and soon action will be taken.

    I hope this time the Commitment is kept
  • #2

    #2

    Re : Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

    .
    Attached Files

    Comment

    • #3

      #3

      Re : Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

      joke of the year

      धोखाधड़ी में पाल ग्रुप के दो डायरेक्टर अरेस्ट


      फरीदाबाद. नहरपार बिल्डर पाल ग्रुप के दो डायरेक्टरों को स्टेट क्राइम ब्यूरो की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। इन दोनांे पर फ्लैट धारकों का करोड़ों रुपए हड़पने का आरोप है। टीम के सदस्य दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रहे हैं। इतना ही नहीं नहर पार कई ऐसे बड़े बिल्डर हैं जिनके खिलाफ एक हजार से अधिक शिकायतें डीसी से लेकर उच्च अधिकारियों को दी जा चुकी है लेकिन उनमें से एक भी मामले में किसी बिल्डर की गिरफ्तारी नहीं हुई है। यह पहला मौका है जब बिल्डर गिरफ्तार किए गए हैं।



      क्या है मामला : स्टेट क्राइम ब्यूरो के सुपरिंटेंडेंट ऑफ पुलिस बिजेंद्र सिंह ने बताया कि नहरपार त्रिवेणी ग्रुप से पाल ग्रुप ने छह साल पहले पांच एकड़ जमीन खरीदी थी। इसके डायरेक्टर राजेश व मानव हैं। इन्होंने एक और ग्रुप से साढ़े पांच एकड़ जमीन खरीदी। कुल साढ़े दस एकड़ जमीन पर इनकी ११क्क् फ्लैट बनाने की योजना चल रही है। एक साइट पर तो काम चल रहा है जबकि दूसरी साइट पर काम थोड़ा धीमा है। इन्हांेने लोगों को फ्लैट देने के लिए रुपया तो ले लिया लेकिन उनको समय पर फ्लैट नहीं दे पाए।



      आरोप है कि 2006 में इन्होंने लोगों से पैसा लेना शुरू किया और कहा कि साढ़े तीन साल में वे फ्लैट पूरे करके दे देंगे। लेकिन उसके काफी समय बाद तक फ्लैट नहीं दिए गए। दिल्ली तिलक नगर निवासी शिकायतकर्ता गुरुविंद्र और अन्य के अनुसार उनके सहित अन्य कई लोगों के ढाई करोड़ रुपए से अधिक का निवेश पाल ग्रुप में किया हुआ है। इस मामले में संबंधित थाने मंे भी लगातार शिकायतें दी गई हैं लेकिन वहां कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद चार से पांच शिकायत स्टेट क्राइम ब्यूरो के पास आईं। वहां एसपी बिजेंद्र ¨सह के आदेश पर पाल ग्रुप के दो डायरेक्टर राजेश और मानव को गिरफ्तार किया गया।



      क्या कहते हैं डायरेक्टर

      पाल ग्रुप के डायरेक्टर राजेश ने बताया कि उन्होंने मई 2008 में लोगों से पैसा लिया था और दिसंबर 2011 में उनको फ्लैट देने के बारे में कहा था लेकिन बीच में कुछ समय तक उनका काम बंद रहा। इसलिए काम डिले हो गया। उन्होंने काफी लोगों का पैसा रिफंड कर दिया है। बाकियों का पैसा दिया जा रहा है। फ्लैट भी जल्द बनकर तैयार हो जाएंगे। किसी के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा। lol
      Attached Files

      Comment

      • #4

        #4

        Re : Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

        करोड़ों रुपये हड़पने के आरोप में 2 गिरफ्तार


        फरीदाबाद।। नहर पार के एरिया में फ्लैट उपलब्ध कराने का झांसा देकर लोगों से करोड़ों रुपये हड़पने के आरोप में एक बिल्डर ग्रुप के 2 डायरेक्टर को गिरफ्तार किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। स्टेट क्राइम ब्यूरो की टीम ने दोनों डायरेक्टरों को रिमांड पर लेकर उनसे पूछताछ की। दोनों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जुडिशल कस्टडी में भेज दिया गया।

        इस बिल्डर ग्रुप ने 6 साल पहले 5 एकड़ जमीन खरीदी थी। इसके डायरेक्टर राजेश और मानव हैं। इन्होंने एक अन्य ग्रुप से साढे़ पांच एकड़ जमीन खरीदी। कुल साढ़े 10 एकड़ जमीन पर इनकी 11 सौ फ्लैट बनाने की योजना चल रही है। आरोप है कि इन्होंने लोगों को फ्लैट देने के बाबत रुपया तो ले लिया लेकिन उनको समय पर फ्लैट नहीं दे पाए।

        आरोप है कि 2006 में इन्होंने लोगों से पैसा लेना शुरू किया और कहा कि साढ़े तीन साल में फ्लैट को बनाकर दे देंगे। वादे के मुताबिक लोगों को फ्लैट नहीं मिले और न ही लोगों को उनका पैसा मिल पाया। इस मामले में संबंधित थाने में भी शिकायतें दी गईं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसके बाद 4 से 5 शिकायत स्टेट क्राइम ब्यूरो के पास आई। इसके बाद केस दर्ज किए गए और कार्रवाई अमल में लाई गई। बताया गया कि दोनों डायरेक्टरों को पुलिस ने अरेस्ट किया था। स्टेट क्राइम ब्यूरो की टीम ने कोर्ट से राजेश और मानव को प्रॉडक्शन वॉरंट पर लिया और उसके बाद रिमांड पर लेकर पूछताछ की। एसपी बिजेंद्र सिंह ने बताया कि दोनों आरोपियों का जुडिशल कस्टडी में भेज दिया गया है।

        Navbharat times

        Comment

        • #5

          #5

          Re : Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

          Agar BPTP nahi sudhari then next number will be of BPTP Owner/Directors. BPTP also has crossed all the limits to make public fool in Neharpar. Still work on lots of Park-81 Floors is stalled from last 2-3 years.

          Comment

          • #6

            #6

            Re : Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

            Its about time some of these low class builders start going to jail. The one before this was Triveni directors and now Pal.

            BPTP has pretty solid backing in Faridabad and Delhi so I doubt that they would get into jail trouble anytime soon. Also, they seem to be doing just enough in terms of construction speed to prevent patience of investors going out of hand.

            Comment

            • #7

              #7

              Re : Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

              Originally posted by djvjain View Post
              Its about time some of these low class builders start going to jail. The one before this was Triveni directors and now Pal.

              BPTP has pretty solid backing in Faridabad and Delhi so I doubt that they would get into jail trouble anytime soon. Also, they seem to be doing just enough in terms of construction speed to prevent patience of investors going out of hand.
              Practically most of the builders in NCR deserve jail for their non ethical practices.Faridabad tops the list
              Dil Jawan Hai To Jahan Hai

              Comment

              • #8

                #8

                Re : Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

                Originally posted by Krazy Yuppie View Post
                Practically most of the builders in NCR deserve jail for their non ethical practices.Faridabad tops the list
                Haryana's ways are totally wrong. Government should ask developers to pay EDC/IDC in advance before licence is issued for the projects so that government can start infrastructure development in sync with the project development. Builders should ask for EDC/IDC charges from the customers only at the offer of possession of project. Jab tak builders ke paise fase rahenge tab tak theek se kaam karenge.

                Secondly remove the concept of super area. 2200/ sq ft. super area charge karne se accha hai ki 2400/sq ft. carpet area par charge kar lo. It will bring transparency to the payment procedure. Right now we don't know what all is included in super area other than the covered flat area.

                Comment

                • #9

                  #9

                  Re : Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

                  Originally posted by miketest View Post
                  Haryana's ways are totally wrong. Government should ask developers to pay EDC/IDC in advance before licence is issued for the projects so that government can start infrastructure development in sync with the project development. Builders should ask for EDC/IDC charges from the customers only at the offer of possession of project. Jab tak builders ke paise fase rahenge tab tak theek se kaam karenge.

                  Secondly remove the concept of super area. 2200/ sq ft. super area charge karne se accha hai ki 2400/sq ft. carpet area par charge kar lo. It will bring transparency to the payment procedure. Right now we don't know what all is included in super area other than the covered flat area.
                  If costs are 2200 PSF for Super Area then for Carpet area builder will not charge less then 3200 PSF.... Carpet area is mostly 30% less then super area ie (3200-960=2240 PSF)....

                  Comment

                  • #10

                    #10

                    Re : Pal Greens by Pal Infrastructure Sector 78 Greater Faridabad

                    Originally posted by saurabh2011 View Post
                    If costs are 2200 PSF for Super Area then for Carpet area builder will not charge less then 3200 PSF.... Carpet area is mostly 30% less then super area ie (3200-960=2240 PSF)....
                    That was just an example. Charge whatever but atleast you won't get the shock at the time of possession.

                    Comment

                    Have any questions or thoughts about this?
                    Working...
                    X