Guys believe or not but in NCR Ghaiziabad is giving one of best rate appreciation from last few years. Below news is an eye opener for Vasundhara Investors.
Read below news for a residential housing society land deal, MAGIC word is deal done in more than DOUBLE rates after just 3 Months UNBELIEVABLE!!!. GZB is most close to CENTER DELHI (like connaught place , IG...) and such advantage can not be taken by any other location at the current Land Rates of GZB.


आवास-विकास परिषद की बिग डील
30 Jun 2011, 0400 hrs IST

????-????? ????? ?? ??? ???- Navbharat Times


आवास - विकास परिषद ने वसुंधरा सेक्टर -13 में ग्रुप हाउसिंग के लिए अब तक की सबसे बड़ी लैंड डील की है। 3,150 वर्ग मीटर जमीन 1,21,500 रुपये प्रति वर्ग मीटर के हिसाब से 38 करोड़ 27 लाख 25 हजार रुपये में नीलाम की गई है। बोली एक प्राइवेट हाउसिंग कंपनी ने जीती है। कंपनी को जमीन की कीमत के अलावा स्टैंप ड्यूटी आदि के 7 फीसदी अतिरिक्त खर्चे भी देेने होंगे। यह जानकारी आवास - विकास परिषद के सुपरिटेंडेंट इंजीनियर आर . के . अग्रवाल ने दी। उन्होंने बताया कि मंगलवार को मेरठ के जागृति विहार कम्यूनिटी सेंटर में ग्रुप हाउसिंग के लिए जमीन की नीलामी हुई थी। यह परिषद के लिए बड़ा अचीवमेंट है। अब तक इतनी ऊंची कीमत मंे परिषद ने वसुंधरा मंे किसी भी ग्रुप हाउसिंग के लिए नीलामी नहीं की थी।

परिषद की डील

एसई आर . के . अग्रवाल के मुताबिक नीलामी में कुल 18 लोग शामिल हुए थे। इसमें दूसरी सबसे ऊंची बोली 1,11,000 रुपये थी। मेरठ में हुई नीलामी में परिषद को मिले जबर्दस्त रेस्पॉन्स को देखते हुए अफसरों में उत्साह है। 38 करोड़ रुपये से ऊपर की खरीद की पूरे दिन परिषद ऑफिस में चर्चा रही। सूत्रों ने बताया कि वसुंधरा सेक्टर -13 मंे ( अटल चौक ) के नजदीक परिषद के पास ग्रुप हाउसिंग के लिए 3,150 वर्ग मीटर जमीन पड़ी है। करीब 3 महीने पहले ही परिषद ने वसुंधरा सेक्टर -18 मंे 54 हजार रुपये प्रति वर्ग मीटर केे रेट से जमीन की नीलामी की थी। सिर्फ 3 महीने में रेट में दोगुने से ज्यादा का अंतर आ गया।

मेट्रो फैक्टर

ट्रांस हिंडन मंे कौशांबी , वसुंधरा और इंदिरापुरम में बड़ी हाउसिंग कंपनियां पहुंच चुकी हैं। इनमें वसुंधरा ही ऐसी कॉलोनी है , जहां पर हाउसिंग ग्रुप बाकी एरिया के अनुपात में कम हैं। वसुंधरा की जमीन मंे आए उछाल को मेट्रो से जोड़कर देखा जा रहा है। वैशाली मेट्रो स्टेशन से वसुंधरा की दूरी भी बहुत ज्यादा नहीं है। ज्यादातर सेक्टर स्टेशन की अप्रोच में हैं।
Read more
Reply
0 Replies
Sort by :Filter by :
No replies found for this discussion.