One more Below Good News for RNE along with 2 already under construction HINDON BRIDGEs & GT Road Wide. With all of these new development work One thing is sure that after 1.5 to 2 years several good routes will there from RNE to any where like Mohan Nagar , Vazirabad Delhi , Dilshad Garden Delhi , NOIDA , Vaishali/Anand Vihar.

हिंडन पुश्ता का अंडरपास चार लेन का होगा
9 Jul 2011, 0400 hrs IST

Navbharat Times - 4 Lane Railway Underpass at Hindon Nehar from GT road to IP/NOIDA

जीटी रोड से वसुंधरा को जोड़ने वाली हिंडन पुश्ता रोड के अंडरपास को चौड़ा करने के लिए रेलवे की मंजूरी मिल गई है। अंडरपास चार लेन का होगा और इसे रेलवे बनाएगा। रेलवे 10 से 15 दिनों के अंदर जीडीए को इस पर आने वाले खर्च का एस्टिमेट तैयार कर भेजेगा। अंडरपास के विस्तार के बाद इस रोड पर ट्रैफिक जाम की समस्या से निजात मिल जाएगी।

जीटी रोड को हिंडन कैनाल रोड से जोड़ने वाली पुश्ता रोड दो लेन की है। इसे चार लेन बनाने के लिए मिट्टी की भराई का कार्य पूरा कर चुका है। जीडीए इस काम पर करीब 90 करोड़ रुपये खर्च कर रहा है। मगर इस नई रोड को हिंडन बैराज के पास की रोड से नहीं मिलाया जा सका है। बीच मंे रेलवे लाइन है। रेलवे ने यहां आरओबी बनाने की मंजूरी नहीं दी थी। रेलवे अब चार लेन अंडरपास बनाने को राजी हुआ है।

इस प्रोजेक्ट की कार्यदायी संस्था सिंचाई विभाग इस पर करीब 40 करोड़ रुपये खर्च कर चुका है। इस प्रोजेक्ट के पूरा होने के बाद दिल्ली और नोएडा की ओर जाने वाले ट्रैफिक को एक और विकल्प मिल जाएगा और वह मोहन नगर के बजाय हिंडन पुश्ता रोड से पास हो सकेगा। जीडीए के चीफ इंजीनियर अनिल गर्ग के मुताबिक रेलवे ने अंडरपास को चौड़ा करने के लिए एनओसी जारी कर दी है। साथ ही उन्होंने यह शर्त भी लगा दी है कि अंडरपास को रेलवे खुद ही बनाएगा।
Read more
Reply
1 Replies
Sort by :Filter by :
  • हिंडन नहर बैराज पुल इस साल सितंबर तक बनकर तैयार हो जाएगा
    31 Jul 2011, 0400 hrs IST

    हिंडन नहर बैराज पुल इस साल सितंबर तक बनकर तैयार हो जाएगा - Navbharat Times

    एनबीटी न्यूज ॥ हिंडन नहर

    हिंडन नहर बैराज के नजदीक बनाया जा रहा तिरछा पुल इस साल सितंबर तक बनकर तैयार हो जाएगा। 2 करोड़ 15 लाख रुपये की लागत से बनने वाले इस पुल को इस साल अगस्त तक बनकर तैयार होना था। बताया जा रहा है कि नगर में पानी बहने की वजह से प्रोजेक्ट के पूरा होने में एक महीने की देरी हो सकती है। पुल की फाउंडेशन डाल दी गई है। नहर के बीच और किनारे खंभे डाल दिए गए हैं। इस पुल को चार लेन का बनाया जाएगा।

    कौन-कौन होंगे इससे लाभान्वित

    गाजियाबाद से वसुंधरा, वैशाली, इंदिरापुरम और नोएडा की ओर जाने वाले वाहन चालक इस वैकल्पिक रास्ते का इस्तेमाल करते हैं। इस रास्ते पर दिन भर ट्रैफिक रहता है। फिलहाल सारा ट्रैफिक हिंडन बैराज से ही गुजरता है। ट्रैफिक का दबाव बढ़ने की वजह से सिंचाई विभाग ने यहां पर एक नया पुल बनाने की योजना बनाई थी। इस पुल का निर्माण कार्य चल रहा है। जो वाहन चालक इंदिरापुरम, वसुंधरा और नोएडा से सीधे जीटी रोड पहुंचना चाहते हैं वे इस पुल का इस्तेमाल कर सकेंगे। इस पुल के बन जाने से हिंडन बैराज के सिंगल लेन वाले पुल को वाहनों के प्रयोग के लिए बंद कर दिया जाएगा और नए पुल को खोल दिया जाएगा।

    ट्रैफिक लाइट का नहीं रहेगा चक्कर

    वैशाली, वसुंधरा, इंदिरापुरम, नोएडा और पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर, मयूर विहार इलाके में रहने वाले जो वाहन चालक बिना किसी रेड लाइट पर रुके जीटी रोड पर पहुंचना चाहेंगे उनके लिए यह पुल काफी फायदेमंद होगा। अभी पीक आवर्स में जब वाहन चालक हिंडन बैराज के नजदीक पुल से आते हैं तो कई बार उन्हें जाम का सामना करना पड़ता है, जब यह पुल बन जाएगा तो वाहन चालकों को यहां से टर्न लेने के बाद किसी तरह की समस्या नहीं होगी और वे आसानी से जीटी रोड पर पहुंच सकेंगे।

    अब तक कितना काम हो चुका है

    इस पुल को बनाने के लिए नहर के बीच में और किनारे पर एक - एक खंभा बना लिया गया है। सड़कों के किनारे भी फाउंडेशन डाल दी गई है। नहर के किनारे किसी तरह से मिट्टी न धंसे इसके लिए सड़क के किनारे अलग से फाउंडेशन बना दी गई है। सिंचाई विभाग के असिस्टेंट इंजीनियर ए . के . वर्मा ने बताया कि इस पुल के निर्माण पर कुल दो करोड़ 15 लाख रुपये का खर्च आ रहा है। पुल की लंबाई कुल 50 मीटर और चौड़ाई 11 मीटर होगी। इस पुल के निर्माण का काम नवंबर 2010 में शुरू और अगस्त 2011 तक पुल का काम पूरा कर वाहनों के लिए खोल दिया जाएगा। उन्होंने कहा , बरसात की वजह से नहर में पानी बह रहा है जिससे प्रोजेक्ट के पूरा होने में एक महीने की देरी हो सकती ह ै।
    CommentQuote