GZB Metro Phase II :: Route cleared from Dilshad Garden to Mohan Nagar - Amar Ujaala



https://api.indianrealestateforum.com/api//v0/attachments/fetch-attachment?node_id=2577
Attachments:
Read more
Reply
629 Replies
Sort by :Filter by :
  • यूपी के बड़े शहरों में मेट्रो चलाने का प्रपोजल

    डीएमआरसी ने यूपी के बडे़ शहरों में मेट्रो ट्रेन चलाने की पैरवी की है। सोमवार को सेंट्रल अरबन प्लानिंग एंड डिवेलपमेंट मिनिस्ट्री में हुई मीटिंग में यूपी सरकार के बड़े अफसरों को इस बारे में प्रेजेंटेशन दिया गया। इसमें 20 लाख से ज्यादा आबादी वाले 12 शहरों को छांटा गया है। जिसमें गाजियाबाद का भी नाम है।

    मीटिंग में मेट्रो को बस के विकल्प के तौर पर पेश किया गया। नगर आयुक्त जितेंद्र सिंह के अनुसार, डीएमआरसी ने आंकड़ों से बताया कि बस के मुकाबले मेट्रो से एक्सिडेंट नहीं के बराबर होते हैं। मेट्रो में एक बार पैसा लगता है और जमीन अधिग्रहण की भी कोई समस्या नहीं है। यूपी के अफसरों को सलाह दी गई कि वे हरियाणा की तरह मेट्रो प्रोजेक्ट में दिलचस्पी लें।

    मेट्रो दौड़ाने की संभावनाओं वाले शहरों पुणे, सूरत, अहमदाबाद, कोलकाता, लुधियाना के बारे में भी जानकारी दी गई। जीडीए के चीफ टाउन प्लैनर एस. के. जमान ने बताया कि डीएमआरसी चाहता है कि यूपी सरकार इसे बस के विकल्प के तौर पर पेश करे, ताकि बड़े शहरों में इसका विस्तार हो। मीटिंग में डीएमआरसी के एमडी मंगू सिंह के अलावा जीडीए वीसी संतोष कुमार यादव आदि भी मौजूद थे।
    यहां चल सकती है मेट्रो : गाजियाबाद, मेरठ, कानपुर, आगरा, इलाहाबाद, नोएडा, लखनऊ आदि।

    Navbhaarat times
    CommentQuote
  • Haha!!What a joke-not for another 10 yrs for sure and that includes GZB metro line!!:D

    Originally Posted by fritolay_ps
    यूपी के बड़े शहरों में मेट्रो चलाने का प्रपोजल

    डीएमआरसी ने यूपी के बडे़ शहरों में मेट्रो ट्रेन चलाने की पैरवी की है। सोमवार को सेंट्रल अरबन प्लानिंग एंड डिवेलपमेंट मिनिस्ट्री में हुई मीटिंग में यूपी सरकार के बड़े अफसरों को इस बारे में प्रेजेंटेशन दिया गया। इसमें 20 लाख से ज्यादा आबादी वाले 12 शहरों को छांटा गया है। जिसमें गाजियाबाद का भी नाम है।

    मीटिंग में मेट्रो को बस के विकल्प के तौर पर पेश किया गया। नगर आयुक्त जितेंद्र सिंह के अनुसार, डीएमआरसी ने आंकड़ों से बताया कि बस के मुकाबले मेट्रो से एक्सिडेंट नहीं के बराबर होते हैं। मेट्रो में एक बार पैसा लगता है और जमीन अधिग्रहण की भी कोई समस्या नहीं है। यूपी के अफसरों को सलाह दी गई कि वे हरियाणा की तरह मेट्रो प्रोजेक्ट में दिलचस्पी लें।

    मेट्रो दौड़ाने की संभावनाओं वाले शहरों पुणे, सूरत, अहमदाबाद, कोलकाता, लुधियाना के बारे में भी जानकारी दी गई। जीडीए के चीफ टाउन प्लैनर एस. के. जमान ने बताया कि डीएमआरसी चाहता है कि यूपी सरकार इसे बस के विकल्प के तौर पर पेश करे, ताकि बड़े शहरों में इसका विस्तार हो। मीटिंग में डीएमआरसी के एमडी मंगू सिंह के अलावा जीडीए वीसी संतोष कुमार यादव आदि भी मौजूद थे।
    यहां चल सकती है मेट्रो : गाजियाबाद, मेरठ, कानपुर, आगरा, इलाहाबाद, नोएडा, लखनऊ आदि।

    Navbhaarat times
    CommentQuote
  • Dosto,

    These all are paid News why we all are posting fake news here ? To Increase our number of post ?. Ye Paid News Channel, paper kam hai kiya jo humne IREF mai bhi post ker rahe hai.

    Please don't mine but if you think news genuine and can help to end users please post here :D
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    यूपी के बड़े शहरों में मेट्रो चलाने का प्रपोजल

    डीएमआरसी ने यूपी के बडे़ शहरों में मेट्रो ट्रेन चलाने की पैरवी की है। सोमवार को सेंट्रल अरबन प्लानिंग एंड डिवेलपमेंट मिनिस्ट्री में हुई मीटिंग में यूपी सरकार के बड़े अफसरों को इस बारे में प्रेजेंटेशन दिया गया। इसमें 20 लाख से ज्यादा आबादी वाले 12 शहरों को छांटा गया है। जिसमें गाजियाबाद का भी नाम है।

    मीटिंग में मेट्रो को बस के विकल्प के तौर पर पेश किया गया। नगर आयुक्त जितेंद्र सिंह के अनुसार, डीएमआरसी ने आंकड़ों से बताया कि बस के मुकाबले मेट्रो से एक्सिडेंट नहीं के बराबर होते हैं। मेट्रो में एक बार पैसा लगता है और जमीन अधिग्रहण की भी कोई समस्या नहीं है। यूपी के अफसरों को सलाह दी गई कि वे हरियाणा की तरह मेट्रो प्रोजेक्ट में दिलचस्पी लें।

    मेट्रो दौड़ाने की संभावनाओं वाले शहरों पुणे, सूरत, अहमदाबाद, कोलकाता, लुधियाना के बारे में भी जानकारी दी गई। जीडीए के चीफ टाउन प्लैनर एस. के. जमान ने बताया कि डीएमआरसी चाहता है कि यूपी सरकार इसे बस के विकल्प के तौर पर पेश करे, ताकि बड़े शहरों में इसका विस्तार हो। मीटिंग में डीएमआरसी के एमडी मंगू सिंह के अलावा जीडीए वीसी संतोष कुमार यादव आदि भी मौजूद थे।
    यहां चल सकती है मेट्रो : गाजियाबाद, मेरठ, कानपुर, आगरा, इलाहाबाद, नोएडा, लखनऊ आदि।

    Navbhaarat times


    this news is a pre-indicator that

    Noida & Ghaziabaad ke baad

    Builders projects are coming in very large volumes in मेरठ, कानपुर, आगरा, इलाहाबाद & लखनऊ........
    CommentQuote
  • Dear friends
    any information regarding MOU signing of metro of dilshad garden & new bus stand
    CommentQuote
  • One question Per Day. Good

    All are waiting for the same. The day MOU will be signed news will be flashed on TV then IREF.
    CommentQuote
  • UP Housing and Development Board okays funds to develop metro link project




    LUCKNOW: UP Housing and Development Board (UPHDB), on Friday, gave its nod to allocation of Rs 295 crore for development of a metro link project between Dilshad garden and bus station in Ghaziabad. The development of the corridor is being taken up under phase-2 of the metro rail project.

    The project was taken up even during Mayawati regime, but could not sustain it because of the funds crunch. The link project is proposed to be carried with the help of Centre-state partnership. In all, the link project is proposed to come up at an estimated cost of over Rs 1,500 crore.

    The meeting presided by housing commissioner PV Jagmohan also decided to name a residential colony in Saharanpur as 'Shakambari colony'. The board at the same time gave a green signal to incorporate the provisions for setting up nursing homes in the residential areas. The provisions imposing some restrictions on operations of nursing homes in the residential areas had come into play through a government order on November 2011.

    TOI
    CommentQuote
  • U.P. me approval jyada hote hai work kam hota hai.....when the metro work will start thats the issue....no matter how many approvals they keep on taking..public want result...5-6 saal me kuch nahi hua ...now people have started ignoring all these paid news by builder lobby.
    CommentQuote
  • ,.
    Attachments:
    CommentQuote
  • Haha!

    Originally Posted by fritolay_ps
    ,.


    "Raasta" would keep getting "saaf" for the next 10 years!!!
    CommentQuote
  • Originally Posted by anksankur
    "Raasta" would keep getting "saaf" for the next 10 years!!!


    Do you think its paid news? Its just update pls cross other newspaper will know the fact........
    CommentQuote
  • सिरे चढ़े प्लान तो आप कहेंगे 'लकी-2012'


    दिलशाद गार्डन से नया बस अड्डा मेट्रो प्रोजेक्ट को लेकर विभिन्न विभागों ने एनओसी जारी कर दिया है। जीडीए के वीसी संतोष कुमार यादव ने बताया कि एनओसी की रिपोर्ट सोमवार को शासन को भेज दी गई है। इसके साथ ही गाजियाबाद में विकास के कई प्रोजेक्ट्स पर तेजी से काम चल रहा है। योजना के मुताबिक प्रोजेक्ट सिरे चढ़ा तो वर्ष 2012 सिटी के लिए लकी कहा जाएगा। सिटी में सस्ते मकानों की स्कीमें लॉन्च होने वाली हैं, तो ट्रांसपोर्ट सुविधा भी बढ़ने वाली है। कुछ सड़कें फोर से सिक्स लेन की होनी हैं। पूरी उम्मीद है कि अक्टूबर में करहेड़ा पुल चालू हो जाएगा। जल्द नया बस अड्डा मेट्रो प्रोजेक्ट के एमओयू पर भी साइन होने वाले हंै। उन्होंने सोमवार को बताया कि सभी प्रोजेक्ट पर तेजी से काम चल रहा है।

    अगले महीने साइन हो सकता है एमओयू
    दिलशाद गार्डन से नया बस अड्डा मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए डीएमआरसी और जीडीए के बीच एमओयू अगले महीने साइन होगा। केबिनेट की मुहर इसी महीने लगने जा रही है। जीडीए के वीसी संतोष कुमार यादव ने बताया कि प्रदेश के वित्तीय, प्लानिंग, ऊर्जा, इंडस्ट्री, यूपी डिवेलपमेंट, प्रदेश के नगर विकास विभाग से एनओसी जारी हो गई है। संभावना है कि तीन से चार महीनों के अंदर डीएमआरसी इस प्रोजेक्ट पर काम करेगा।
    दिलशाद गार्डन से नया बस अड्डा मेट्रो प्रोजेक्ट
    कुल लंबाई : 12.50 किलोमीटर

    navbharat times
    CommentQuote
  • https://api.indianrealestateforum.com/api//v0/attachments/fetch-attachment?node_id=13943
    Attachments:
    CommentQuote
  • Metro now move on to the next level for the state cabinet's approval

    Cabinet to take call on Metro - Hindustan Times
    HT Correspondent, Hindustan Times
    Ghaziabad, August 14, 2012


    The second phase of Delhi-Metro in Ghaziabad from Dilshad-Garden to New Bus Stand will now move on to the next level for the state cabinet's approval. The related state departments have already given a clearance for the proposed Rs. 1,591 crore project.

    Ghaziabad Development Authority's vice-chairman Santosh Kumar Yadav said, "We have got clearance from all state government departments and all formalities with respect to finance, legal and planning have been cleared. The proposal will now move to the UP cabinet."
    CommentQuote
  • Originally Posted by saurabh2011
    Cabinet to take call on Metro - Hindustan Times
    HT Correspondent, Hindustan Times
    Ghaziabad, August 14, 2012


    The second phase of Delhi-Metro in Ghaziabad from Dilshad-Garden to New Bus Stand will now move on to the next level for the state cabinet's approval. The related state departments have already given a clearance for the proposed Rs. 1,591 crore project.

    Ghaziabad Development Authority's vice-chairman Santosh Kumar Yadav said, "We have got clearance from all state government departments and all formalities with respect to finance, legal and planning have been cleared. The proposal will now move to the UP cabinet."

    What about the objection of Ghaziabad Mayor and his reservations about the metro project
    CommentQuote