पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16357 Replies
Sort by :Filter by :
  • There is no "FARMERS LOBBY" as you would like to describe.
    CommentQuote
  • Guys, have u ever seen dwarka expressway Gurgaon....minimum rate of 2 bhk is not less than 55 lakh...I have once visited the dwarka expreas way...janab..wha kya location thee maza aa gaya...projects tak jane ke road bhee nahi, sab projects ke back main railway line, har taraf village with Gobar...Rate too masha alla..4500 per sqft minimum with 350 Rs EDC + AROUND 400 Rs other charges.....builders and brokers ke mane too isse acche koi location he nahi hai india main...assa lagta hai future main Dwarka express way par he Aeroplane land hoga.....otherwise koi gadha he us jangal main flat lega........

    On the otherhand...Noida Extension...1000 times better than dwarka express way...tab bhee 3000 persqft zada hai....according to some people, in Noida extension there will be huge over supply...bhai jab dwarka exrpress way, Patudi road (gurgaon) main tak loog paglon ke tarha khredte hain too Noida extension par kyon nahi....bhai logon ke kami nahi hai flat lene ke liyee...ek baar Noida extension clear too hone dijiye...tab dekhiye gaa....in whole country there is no 130 meter road..which is planed in noida extension.....
    CommentQuote
  • Originally Posted by Amitagg
    Guys, have u ever seen dwarka expressway Gurgaon....minimum rate of 2 bhk is not less than 55 lakh...I have once visited the dwarka expreas way...janab..wha kya location thee maza aa gaya...projects tak jane ke road bhee nahi, sab projects ke back main railway line, har taraf village with Gobar...Rate too masha alla..4500 per sqft minimum with 350 Rs EDC + AROUND 400 Rs other charges.....builders and brokers ke mane too isse acche koi location he nahi hai india main...assa lagta hai future main Dwarka express way par he Aeroplane land hoga.....otherwise koi gadha he us jangal main flat lega........

    On the otherhand...Noida Extension...1000 times better than dwarka express way...tab bhee 3000 persqft zada hai....according to some people, in Noida extension there will be huge over supply...bhai jab dwarka exrpress way, Patudi road (gurgaon) main tak loog paglon ke tarha khredte hain too Noida extension par kyon nahi....bhai logon ke kami nahi hai flat lene ke liyee...ek baar Noida extension clear too hone dijiye...tab dekhiye gaa....in whole country there is no 130 meter road..which is planed in noida extension.....

    Amit ... I wish NE issue gets clear off soon .. as it will give smiles back to all those people who have bought their dream homes there ...

    Today the news have come up regarding Metro Junction at Sector 71 , and 130 mtr road to be operational in next 6 months ...

    If NE issue gets resolved simultaneously, if not soon, then atleast in next 6 months, NE is capable enuf to see the same glory which it lost 1 year ago...

    When NE ws selling like vegetable at 1800-2000/sq ft ... Noida n E Way were standing at 2800 - 3200/sq ft .... Today when both these areas are at nothing less than 4500, I dont see a reason why people would not settle down at 2500-2700 /sq ft at NE, given the situation, everything gets clear by HC/SC/Authority in written ...

    Moreover, there has been 1 positive part to all this disaster at NE, atleast now people will not get trapped in small crap builders who wl never deliver the project...

    i m sure people will and should settle down for reputed builders only !!!
    CommentQuote
  • Originally Posted by Amitagg
    Guys, have u ever seen dwarka expressway Gurgaon....minimum rate of 2 bhk is not less than 55 lakh...I have once visited the dwarka expreas way...janab..wha kya location thee maza aa gaya...projects tak jane ke road bhee nahi, sab projects ke back main railway line, har taraf village with Gobar...Rate too masha alla..4500 per sqft minimum with 350 Rs EDC + AROUND 400 Rs other charges.....builders and brokers ke mane too isse acche koi location he nahi hai india main...assa lagta hai future main Dwarka express way par he Aeroplane land hoga.....otherwise koi gadha he us jangal main flat lega........

    On the otherhand...Noida Extension...1000 times better than dwarka express way...tab bhee 3000 persqft zada hai....according to some people, in Noida extension there will be huge over supply...bhai jab dwarka exrpress way, Patudi road (gurgaon) main tak loog paglon ke tarha khredte hain too Noida extension par kyon nahi....bhai logon ke kami nahi hai flat lene ke liyee...ek baar Noida extension clear too hone dijiye...tab dekhiye gaa....in whole country there is no 130 meter road..which is planed in noida extension.....


    LOL...really liked your sarcasm....especially the Aeroplane landing at DEW....
    What you have brought out is true to the core and the DEW threads are filled with nasty debates over the same....Investors are in denial mode over the false hype created by builder-broker nexus and are just not ready to see the outrageously high price to value ratio at DEW.....
    CommentQuote
  • अब नोएडा एक्सटेंशन के निवेशक पहुंचे हाईकोर्ट


    ग्रेटर नोएडा, : नोएडा एक्सटेंशन में निर्माण कार्य शुरू होने में देरी पर फ्लैट खरीदारों ने इलाहाबाद हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। निवेशकों ने कोर्ट में याचिका दायर कर बड़ी बेंच के फैसले पर पुनर्विचार करने व एक्सटेंशन में निर्माण कार्य शुरू करने की अनुमति देने की अपील की है।

    नोएडा एक्सटेंशन में करीब एक लाख निवेशकों ने फ्लैट बुक करा रखा है। एनसीआर प्लानिंग बोर्ड से मास्टर प्लान मंजूर होने के बाद निर्माण कार्य शुरू करने के कोर्ट के फैसले से निवेशकों के मकान का सपना अधर में लटक गया है। निवेशक मास्टर प्लान मंजूर कराने को लेकर प्राधिकरण व एनसीआर प्लानिंग बोर्ड में गुहार लगा चुके हैं, इसके बाद भी फैसला नहीं हो पाया है। नोएडा एक्सटेंशन फ्लैट आनर एंड मेंबर एसोसिएशन (नेफोमा) के संस्थापक देवेंद्र कुमार ने बताया कि एक्सटेंशन में निर्माण कार्य शुरू कराने को लेकर हाईकोर्ट में अपील की गई है। अनुरोध किया गया है कि निवेशकों के हितों को ध्यान में रखते हुए निर्माण कार्य शुरू करने का आदेश जारी किया जाए। हाईकोर्ट में अब तक अपील पर सुनवाई की तिथि निश्चित नहीं हुई है।

    बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट की बड़ी बेंच ने 21 अक्टूबर, 2011 को नोएडा एक्सटेंशन समेत 39 गांवों में जमीन अधिग्रहण पर फैसला सुनाया था। कोर्ट ने फैसले में किसानों को करीब 64 फीसदी अतिरिक्त मुआवजा व दस फीसदी विकसित भूखंड देने का निर्देश दिया था। शहर का मास्टर प्लान 2021 एनसीआर प्लानिंग बोर्ड से पास नहीं होने के कारण निर्माण कार्य पर रोक लगा दिया था। साथ ही निर्देश दिया था कि एनसीआर प्लानिंग बोर्ड से मास्टर प्लान मंजूर होने के बाद ही निर्माण कार्य शुरू किया जाए। कोर्ट के फैसले से एक्सटेंशन में निर्माण कार्य ठप हो गया था।

    नोएडा एक्सटेंशन पर हाईकोर्ट की तीन सदस्यीय बड़ी बेंच के फैसले पर ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने पुनर्विचार याचिका दायर कर रखी है। प्राधिकरण ने कोर्ट से निर्माण कार्य रोके जाने के फैसले पर विचार करने का अनुरोध किया है। प्राधिकरण के पुनर्विचार याचिका पर अब तक सुनवाई नहीं हुई है। वहीं एक्सटेंशन के किसानों ने हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील कर रखी है।




    -Dainik jagran
    CommentQuote
  • Update
    Attachments:
    CommentQuote
  • Buyers move HC to fast track Noida Extn projects


    NOIDA: Homebuyers of Noida Extension have filed a writ petition in the Allahabad high court pleading that a writ, order or direction be issued to the NCR Planning Board to take a decision within a fixed time frame so that construction of housing projects can resume. Members of Noida Extension Flat Owners and Members Association, the petitioners, personally served a copy of the petition to NCRPB in New Delhi on Tuesday. Counsel for the buyers' group, VK Singh, said the case will be heard on April 10.
    The respondents in the case, apart from the planning board, are the state government and Greater Noida Authority. "As per the notice served on NCRPB, an appearance has to be made before the high court on or before April 10 to explain why the application made by my client should not be granted," added Singh.

    Petitioner Abhishek Kumar of the buyers' body said, "We petitioned in the high court that the respondents be directed to take a decision regarding the Master Plan 2021 to give justice to those middle-income families who have invested their life's savings in housing units."

    TOI
    CommentQuote
  • बिना अधिग्रहण के ही भूमि कर दी आवंटित

    नोएडा। प्राधिकरण में जमीन आवंटन को लेकर मामले सिर उठाने लगे हैं। इसी कड़ी में सेक्टर-91 में पंचशील बालक इंटर कालेज के पास एक लाख बीस हजार वर्गमीटर जमीन को बिना अधिग्रहित किए एक अस्पताल को आवंटित करने का मामला मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के पास पहुंचा है। इस संबंध में भूमि विकास, जल संसाधन एवं परती भूमि विकास विभाग के मंत्री ओम प्रकाश ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर पूरे मामले की जांच कर कार्रवाई की मांग उठाई है।

    यह जमीन एक्सप्रेस-वे के किनारे बसे नंगली वाजिदपुर गांव के चौहान परिवार की है। इस संबंध में मंत्री ओम प्रकाश ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को लिखे पत्र में कहा कि नियमों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए जमीन पर कब्जा किया गया है, इसलिए इस संबंध में तत्काल प्रभाव से कार्रवाई की जाए। 1,20,000 वर्गमीटर क्षेत्रफल वाली इस जमीन का मालिकाना हक रखने वाले मनोज चौहान ने बताया कि प्राधिकरण ने इसका अधिग्रहण नहीं किया है। यहां न तो धारा-चार हुई है और न ही धारा-17 का काम किया गया।
    प्राधिकरण ने एक अस्पताल को यह जमीन आवंटित भी कर दी है। इस संबंध में कोर्ट में याचिका दायर भी की गई है। उन्होंने बताया कि प्राधिकरण ने जमीन खाली कराने के लिए कई बार दबाव बनाया है। इस दौरान चुनाव हुए और सपा सरकार सत्ता में आ गई। इसके लिए मुख्यमंत्री को पूरी जानकारी देते हुए सारे कागज उपलब्ध करा दिए हैं। ब्यूरो

    -Amar Ujala
    CommentQuote
  • किसानों ने चेयरमैन से मुलाकात की
    ग्रेटर नोएडा। मंगलवार को किसानों का प्रतिनिधिमंडल प्राधिकरण चेयरमैन रमा रमन से मिला। किसानों ने साफ कहा है कि प्राधिकरण अब किसानों की समस्याओं के निस्तारण के लिए इंतजार न कराए। क्योंकि पिछले पांच माह से किसान इंतजार ही कर रहे हैं। किसानों ने आरोप लगाया है कि कभी बोर्ड बैठक का मसला फंस जाता है तो कभी कोई अधिकारी मौके पर मौजूदा नहीं होता है। किसानों के प्रतिनिधिमंडल में जिला पंचायत के पूर्व चेयरमन विजेंद्र भाटी, जमीन अधिग्रहण प्रतिरोध आंदोलन के प्रवक्ता डॉ.रूपेश वर्मा, संयोजक सरदाराम भाटी, हरेंद्र खारी, दिनेश भाटी, संजय भाटी आदि शामिल रहे। चेयरमैन ने आश्वासन दिया है कि डीएम और एसएसपी से भी बात हो चुकी है और शीघ्र ही लंबित मामलों का निस्तारण किया जाएगा। ब्यूरो

    -Amar Ujala
    CommentQuote
  • Any thoughts about 'New Rajneegandha Greens', new project in Noida extension sector 1?

    Awaiting your response...
    CommentQuote
  • Originally Posted by sandip09
    Any thoughts about 'New Rajneegandha Greens', new project in Noida extension sector 1?

    Awaiting your response...


    yaar i had gone there today only ... didnt like the location ...

    balak intercollege ke side se ek narrow street ke ander jaake hai ye


    and builder bhi naya hai .. bit risky i wud say ...
    CommentQuote
  • Originally Posted by sandip09
    Any thoughts about 'New Rajneegandha Greens', new project in Noida extension sector 1?

    Awaiting your response...

    Frnd, Never settle down for these new builders and their projects ...

    Brokers and sales guys will say all what not to promote everything they are getting commission on ... they will make the project better than 3C, DLF, Gaur n rest...

    Look for Noida Extn only when everything gets crear and settle for a reputed builder, even if takes a lack or two more ...
    CommentQuote
  • Originally Posted by naveensri
    Frnd, Never settle down for these new builders and their projects ...

    Brokers and sales guys will say all what not to promote everything they are getting commission on ... they will make the project better than 3C, DLF, Gaur n rest...

    Look for Noida Extn only when everything gets crear and settle for a reputed builder, even if takes a lack or two more ...


    Any investment in region will need good homework....
    Infact I would still suggest that its not time to put in money but to wait and watch.....

    Beside NCR clearence and authority clearence I believe so many other factors are still to be considered ..... Farmers agitation ... pending court cases both at Allahabad and New Delhi....

    and of course the reputation of the builders
    CommentQuote
  • Originally Posted by naveensri
    Frnd, Never settle down for these new builders and their projects ...

    Brokers and sales guys will say all what not to promote everything they are getting commission on ... they will make the project better than 3C, DLF, Gaur n rest...

    Look for Noida Extn only when everything gets crear and settle for a reputed builder, even if takes a lack or two more ...



    Hi Naveen,


    Could you please suggest on Bulland Elevates (GC8) ? I have already booked in this project after analyzing lots of factor like - Location , Rate , Layout. But at this current scenario , i am not clear either decision was good or not.

    Thanks,
    Ankit
    CommentQuote
  • Originally Posted by ankit101
    Hi Naveen,


    Could you please suggest on Bulland Elevates (GC8) ? I have already booked in this project after analyzing lots of factor like - Location , Rate , Layout. But at this current scenario , i am not clear either decision was good or not.

    Thanks,
    Ankit


    yaar to be honest in the current scenario one shud only go for reputed builders in NE.
    CommentQuote