पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • But bigger worry... "SC Judgement" is still pending on NE... before SC verdict...I am sure.. no builder will start construction...
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    But bigger worry... "SC Judgement" is still pending on NE... before SC verdict...I am sure.. no builder will start construction...

    Aare Bhai koi date finalize hui?
    CommentQuote
  • We will come to know by Wk-2 April...for next date from SC
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    We will come to know by Wk-2 April...for next date from SC

    Thanks

    But its stretching too long, even Big Shots prediction in this forum seems to be getting failed now.

    What's about HC cases? Sorry for being too dependent on you.
    CommentQuote
  • one of judge was on holiday... so no new date is declared... no update till date but expected hearing in between 17-23rd as per local lawyer (from farmer side)... I got this info from facebook from one of NE project
    CommentQuote
  • NCR planning board has suggested some changes in master plan and once it is done... ...than no objection from planning board

    watch video
    Noida Extension housing project - YouTube
    CommentQuote
  • Originally Posted by trialsurvey
    stellar, paramount, gaur all have increased prices in last 2 weeks .. does this mean that the land dispute is coming to an end soon ?


    ye kisne kaha?
    CommentQuote
  • Originally Posted by del_sanju
    ye kisne kaha?


    bhaiya price hike ka toh builder ne kaha ... aap bhi pata kar lo direct call karke and website pe check karke !
    :-)
    CommentQuote
  • 1. builders have started slowly increasing their prices

    2. brokers have slowly started coming back in the region

    3. Greater Noida authority has started making flashy statements like "Metro to Noida extension by 2015"

    A CLEAR CUT INDICATOR...THAT DEAL IS DONE....NOIDA EXTENSION MATTER IS ON THE VERGE OF BEING CLEARED BY THE COURTS

    IN A FEW MONTHS..CONSTRUCTION IS GOING TO RESUME....AND NEWER PROJECTS OR TOWERS WILL BE LAUNCHED AT HIGH PRICES....EXPECT AT LEAST RS.5OO PSF INCREASE

    THE QUESTION WHICH NO ONE IS ASKING IS THAT>

    How come Greater Noida authority CEO is making Media statements about Metro expansion to Noida extension...and reports are being published in Media that DMRC Has approved the Metro expansion incl. Noida extension WHEN IN FACT THE LAND IN QUESTION IS STILL DISPUTED.....THE MATTER IS STILL IN COURT...AND SUPREME COURT HAS NOT GIVEN ITS DECISION

    WHY ALL THIS IS BEING DONE ?????

    HOW COME BROKERS, BUILDERS, BABUS have started behaving like this...

    When infact the So Called "Credible" Supreme Court of India has NOT passed its judgement !!!!!!

    Is Supreme Court Judges sleeping Now????????

    Where are they??????

    Answer: I gave the answer Long time back !!!!!!!!!!!
    CommentQuote
  • There will be HC hearing on review petition (regarding NCRPB approval) on 10-Apr. NCRPB has to give reply on notice issued by HC at this date.

    Anybody have more update on this?
    CommentQuote
  • Originally Posted by vijay.dhiman
    There will be HC hearing on review petition (regarding NCRPB approval) on 10-Apr. NCRPB has to give reply on notice issued by HC at this date.

    Anybody have more update on this?


    I am a bit confused now .... Is NCRPB approval the only thing which is pending now or is a verdict by Supreme Court also needed before NE can be fully cleared ?
    CommentQuote
  • Originally Posted by trialsurvey
    I am a bit confused now .... Is NCRPB approval the only thing which is pending now or is a verdict by Supreme Court also needed before NE can be fully cleared ?

    dost abhi bahut pench hai noida xxx mai bas dekhte jaao -

    rohit
    CommentQuote
  • Originally Posted by rohit_warren
    dost abhi bahut pench hai noida xxx mai bas dekhte jaao -

    rohit


    batao itne pench ke baad bhi nirala estate wala bolta hai "2bhk all sold out" ..

    and also most of the builders have increased prices twice in last 1 month in NE !!
    CommentQuote
  • Originally Posted by trialsurvey
    I am a bit confused now .... Is NCRPB approval the only thing which is pending now or is a verdict by Supreme Court also needed before NE can be fully cleared ?


    NCRB approval is needed to start the construction immediately. Having said that SC verdict is equally important.
    CommentQuote
  • Originally Posted by cookie
    NCRB approval is needed to start the construction immediately. Having said that SC verdict is equally important.


    what happens if NCRPB approves it but SC still quashes land acquisition .. does it mean bye bye to extension ? and is there any guarantee that the fly by night kind of builders will return the money to investors/end users ?

    i think it would be wise to invest ONLY in reputed builders at this point of time in NE
    CommentQuote