पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • sports city:(
    Attachments:
    CommentQuote
  • good news...????
    Attachments:
    CommentQuote
  • Syapa baki hai:(
    Attachments:
    CommentQuote
  • '15 जुलाई तक नहीं मानी मांगें, तो रोकेंगे काम'


    नोएडा :
    एक बार फिर किसानों ने अपनी मांगें पूरी न होने तक बिल्डरों का काम रोकने का अल्टीमेटम दिया है। बुधवार को सेक्टर-79 स्पोर्ट्स सिटी की खाली पड़ी जमीन की फेंसिंग का किसानों ने विरोध कर कर्मचारियों को वहां से भगा दिया। बाद में किसानों की पंचायत हुई। पंचायत का संचालन कर रहे सोहरखा ग्राम प्रधान नरेश यादव ने बताया कि अथॉरिटी चेयरमैन ने वार्ता का न्यौता दिया है। गुरुवार को किसानों का प्रतिनिधिमंडल चेयरमैन से मुलाकात कर जल्द मांगों को हल कराने की मांग करेगा। उन्होंने बताया कि किसानों की मांगों का 15 जुलाई तक निस्तारण नहीं होने की दशा में क्षेत्र में चल रहे बिल्डरों के कामों को रुकवा दिया जाएगा। साथ ही खाली पड़ी जमीन पर किसी को कब्जा नहीं लेने दिया जाएगा।

    इससे पहले बुधवार सुबह सोहरखा, सर्फाबाद, बरौला व सलारपुर आदि गांवों के सैकड़ों किसानों ने एक नामी बिल्डर कंपनी को सेक्टर-79 स्पोर्ट्स सिटी की खाली जमीन पर फेंसिंग नहीं करने दिया। किसानों ने बिल्डर के कर्मचारियों को वहां से भगाकर मांगे पूरी नहीं होने तक किसी जमीन पर कब्जा नहीं देने का ऐलान किया। किसानों ने खाली पड़ी जमीन का आवंटन निरस्त कर किसानों को 10 पर्सेंट के प्लॉट अलॉट करने की मांग की।

    nbt
    CommentQuote
  • '15 जुलाई तक नहीं मानी मांगें, तो रोकेंगे काम'


    नोएडा :
    एक बार फिर किसानों ने अपनी मांगें पूरी न होने तक बिल्डरों का काम रोकने का अल्टीमेटम दिया है। बुधवार को सेक्टर-79 स्पोर्ट्स सिटी की खाली पड़ी जमीन की फेंसिंग का किसानों ने विरोध कर कर्मचारियों को वहां से भगा दिया। बाद में किसानों की पंचायत हुई। पंचायत का संचालन कर रहे सोहरखा ग्राम प्रधान नरेश यादव ने बताया कि अथॉरिटी चेयरमैन ने वार्ता का न्यौता दिया है। गुरुवार को किसानों का प्रतिनिधिमंडल चेयरमैन से मुलाकात कर जल्द मांगों को हल कराने की मांग करेगा। उन्होंने बताया कि किसानों की मांगों का 15 जुलाई तक निस्तारण नहीं होने की दशा में क्षेत्र में चल रहे बिल्डरों के कामों को रुकवा दिया जाएगा। साथ ही खाली पड़ी जमीन पर किसी को कब्जा नहीं लेने दिया जाएगा।

    इससे पहले बुधवार सुबह सोहरखा, सर्फाबाद, बरौला व सलारपुर आदि गांवों के सैकड़ों किसानों ने एक नामी बिल्डर कंपनी को सेक्टर-79 स्पोर्ट्स सिटी की खाली जमीन पर फेंसिंग नहीं करने दिया। किसानों ने बिल्डर के कर्मचारियों को वहां से भगाकर मांगे पूरी नहीं होने तक किसी जमीन पर कब्जा नहीं देने का ऐलान किया। किसानों ने खाली पड़ी जमीन का आवंटन निरस्त कर किसानों को 10 पर्सेंट के प्लॉट अलॉट करने की मांग की।

    किसानों की मुख्य मांगें

    1. हाई कोर्ट के आदेश पर सोहरखा गांव के किसानों को 10 पर्सेंट जमीन की एवज में कुल 4 लाख वर्ग मीटर जमीन दी जानी है। इसमें से केवल 1.5 लाख वर्ग मीटर जमीन ही अभी तक आवंटित की गई है। बाकी किसानों के लिए पहले जमीन रिजर्व हो।

    2. सेक्टर-79, 115, 118 की खाली पड़ी जमीन के आवंटन को निरस्त कर किसानों को 10 पर्सेंट जमीन के प्लॉट मिले।

    3. पूर्व सीईओ बलविंदर कुमार के आदेशानुसार आबादी को जहां है-जैसी है के आधार पर छोड़कर बैक लीज की जाए।

    4. भूमिहीन ग्रामवासियों को 100-100 वर्ग मीटर के प्लॉट दिए जाएं ।

    nbt
    CommentQuote
  • Why Authority is not doing anything as per the directive of HC? Now there is no BMW in power, why Authority is still giving lands to Fuddu Builders like previous regime in the same manner??

    I support the move of farmers of stopping the work now....
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    Syapa baki hai:(


    Wished these farmer were so aggressive wen the pillar were laid in noida extn in 2010 or so. Itne sare investor jinne is bare me kuch pata bhi nhi tha bach toh jate. N then these builders who has got sufficient installment from buyers n Gnida wud have faced much more pressure.
    CommentQuote
  • Originally Posted by cookie
    Why Authority is not doing anything as per the directive of HC? Now there is no BMW in power, why Authority is still giving lands to Fuddu Builders like previous regime in the same manner??

    I support the move of farmers of stopping the work now....


    I agree. Where land is not allocated yet and no work going on. Give the land back to farmer or allocate them their 10% Land.

    Govt. shows concern to farmer where work is oging on and things r complicated, But where they can help them, they are not doing. Just making money on expense of aam aadmi and end users
    CommentQuote
  • Any news whether our NCRPB meeting today?
    CommentQuote
  • Update - at 11.34 am (On N C R P B meeting)
    -------------------------------------------------
    As on now Meeting is not postponed or cancel, It may be start at 12.45 pm. (Agenda Not declare till now).
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    Master plan is sure getting approved after july...till date... 8th month have been passed.... just wait for another month.... baby name will be "Master" Plan :)


    Good one. Hope the baby does not have any birth defects and will be healthy.
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    Update - at 11.34 am (On N C R P B meeting)
    -------------------------------------------------
    As on now Meeting is not postponed or cancel, It may be start at 12.45 pm. (Agenda Not declare till now).


    Atleast now the approval should come across today...
    Keeping fingers crossed.....
    Praying for the Best !!!
    CommentQuote
  • 12:30 :NEFOMA Updates : अभी अभी हमारे पास जो खबर आई है उसके अनुसार आज कुछ पोजीटिव निकल के आने वाला है । ग्रैटर-नोएडा के CEO, Mr.Rama Raman मीटिंग के लिये पहुँच चुके है ।
    CommentQuote
  • Bhagwan karai sub theek ho.
    CommentQuote
  • buri naazar walo ka mu kala.
    CommentQuote