पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • Originally Posted by fritolay_ps
    Zee News : Approval given by "sub-commitee" of NCPRB"

    Sub committee who takes care of technical part (how much is green area, population ratio... basic infra etc etc) ...Now MP will be sent for board approval which is JUST STAMP... dont worry guys....


    I believe you
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    Zee News : Approval given by "sub-commitee" of NCPRB"

    Sub committee who takes care of technical part (how much is green area, population ratio... basic infra etc etc) ...Now MP will be sent for board approval which is JUST STAMP... dont worry guys....


    I totally agree with you, Frito. It is just the movement of file for Stamping purose by the authorised body
    CommentQuote
  • update
    Attachments:
    CommentQuote
  • more...
    Attachments:
    CommentQuote
  • Decks cleared for Noida Extension, likely to become a reality soon

    New Delhi: The statutory committee of NCR Planning Board (NCRPB) has given its non objection to Noida Extension with some riders on Thursday. Now, the statutory committee will recommend it to the NCRPB for approval. The board can finally give the nod as there is no objection from the statutory committee. The committee went into whether Greater Noida Authority plan is in conformity with all the norms or not.

    The meeting was attended by Uttar Pradesh's principal secretary (housing) SN Shukla. The master plan has been pending for approval for eight months, giving tension to thousands of homebuyers in Noida Extension.

    A day before the NCR Planning Board's (NCRPB) proposed meeting on the Greater Noida's master plan 2021, disgruntled farmers on Wednesday wrote to the central body requesting it "not to approve the plan in haste".

    http://www.newsbullet.in/india/34-more/31996-noida-extension-likely-to-be-cleared-very-soon
    CommentQuote
  • Its really a good news for people who have invested their hard earned money.
    Farmers or thieves played spoilsport in this region, am sure they will not get anything as GNIDA is bankrupt and also 10% land is also distant dream.
    Farmer is being wooed by politician who make tall claims for compensation. Have seen in Noida that farmers have been fighting case in highcourts for last 15 years and now they are bankrupt. Farmers in this region are greedy and manipulated by politicians.
    Recently GNIDA has returned land to farmers where they have been asking for higher compensation. Now same farmers are lobbying for agreement for same compensation.
    CommentQuote
  • Congratulations to all of you... Special thanks to NEOMA Team this is result of their hard work

    Again congratulations
    CommentQuote
  • Now with NE getting a nod, do you think that the investors should think before investing in other parts of Noida as a slowdown in other parts is obvious due to this?

    Seniors- Any views?
    CommentQuote
  • Today is a big day.

    The statutory committee of NCR Planning Board (NCRPB) has given its non objection to Greater Noida Master Plan 2021.

    This MP will have to be FINALLY approved by the NCRPB's Board (headed by Mr. Kamal Nath, Minister of Urban Development with CMs of several adjoining states as member).

    Board's approval could be taken either in a meeting or 'by circulation'.

    Most probably it will be 'by circulation' as in last board meeting which was held in March, Kamalnath told that no board meeting would be needed for this if statutory committee approves it.

    The whole thing is that the 'construction work' is not going to resume on today's approval. We may have to wait some more time.

    But Guys we are very close to it. So enjoy. Today is a big day.

    Kal ki kal dekhenge .
    CommentQuote
  • Great news finally. Only point is will Noida Ex. will remain affordable in near future????

    Anyway, happy days ahead.
    CommentQuote
  • नोएडा एक्सटेंशन में फ्लैट खरीदने वालों को राहत के आसार, 2021 के मास्टरप्लान को मिली मंजूरी - Hindstan
    CommentQuote
  • Waiting for Rohit Warren's comments...
    CommentQuote
  • निवेशकों के लिए खुशी की खबर,नोएडा एक्सटेंë

    निवेशकों के लिए खुशी की खबर,नोएडा एक्सटेंशन के प्लान को मंजूरी
    PrintEmailComments ( 0 )
    Share


    नोएडा। नोएडा एक्सटेंशन में निवेश करने वाले लोगों के लिए अच्छी खबर है। एनसीआर प्लानिंग बोर्ड की संवैधानिक समिति ने नोएडा एक्सटेंशन के प्लान को कुछ शतोंü के साथ मंजूरी दे दी है।

    इससे नोएडा एक्सटेंशन में फ्लैट खरीदने वालों को राहत के आसार बने हैं।

    बताया गया कि एनसीआर प्लानिंग बोर्ड की संवैधानिक समिति ने 2021 के मास्टरप्लान को मंजूरी दे दी है। अब इस पर आखिरी मुहर प्लानिंग बोर्ड की बैठक में लगेगी
    CommentQuote
  • 28 JUN, 2012, 08.52PM IST, PTI
    Major hurdle in completion of Greater Noida flats overcome

    NEW DELHI: The long wait of thousands of home buyers to possess flats in Greater Noida finally could be nearing an end as a statutory body today approved the Draft Master Plan for Greater Noida-2021.

    National Capital Region Planning Board (NCRPB) officials today said that in its Statutory Committee meeting here "the Draft Master Plan for Greater Noida-2021 was considered and recommended for consideration of the NCR Planning Board."

    Officials said while the committee, which comprised Member Secretary of the NCRPB and officials of the National Capital Region states today approved the Draft Master Plan and the final go ahead would be given by the Board itself.

    Urban Development Minister Kamal Nath is the Chairman of the NCRPB with the Chief Ministers of Delhi, Haryana, Uttar Pradesh and Rajasthan as its members.

    The NCRPB reviewed the Greater Noida Draft Master Plan 2021 following an October 2010 Allahabad High Court order which had stopped construction in areas for which the plan had not been approved by the Board.
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    Waiting for Rohit Warren's comments...


    He must be off to Noida Extension :D
    CommentQuote