पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • Originally Posted by ankit101
    I am getting option to exit from Noida Extn.
    I have received one call from broker. He was asking to sell my flat in resale (Booked Gaur City2 - GC8 @1900). Although he is giving only 200/sq fett as premium. Please suggest. Should I take this oprrtunity and go for some other location or else I should wait.

    Thanks,
    Ankit


    better Hold......
    CommentQuote
  • u should wait

    You should wait for some more time (ur already waiting from last 1 year) as if you call broker for fresh booking in GAUR 2 he give you the deal no lesser then 2900 to 3000 PSF.
    CommentQuote
  • i receivd a msg ___few hours left 2 book eco villag with old rates from 23 lk onwsrds. Does it mean ncrp aprvl is coming in a day or 2? OR ye aise hi hai
    CommentQuote
  • whre is gc 8 in gaur 2?
    CommentQuote
  • Hi,

    I have been offer Rs. 2900 for eco 2.

    Parking, club & lease rent is free but other charges will add.

    Please suggest.
    CommentQuote
  • Originally Posted by srkicf
    Hi,

    I have been offer Rs. 2900 for eco 2.

    Parking, club & lease rent is free but other charges will add.

    Please suggest.


    In my opinion sell it and purchase an RTM in Main GN (Sector Omicron, Sigma etc) The present rate is 2600-2800. No tension. Just move in.
    CommentQuote
  • Thanks for reply.

    But My post for purchase not for sell.

    Plz suggest me should I buy in this rate in flaxi plan
    CommentQuote
  • Originally Posted by srkicf
    Thanks for reply.

    But My post for purchase not for sell.

    Plz suggest me should I buy in this rate in flaxi plan


    I hold that in short term rates in NE will increase more rapidly, provided legal matters settle down permanently. However SC issue is still pending. So take decision accordingly. Your holding and risk taking capacity has to be above average. The best rate is 2500-2600 psf (all inclusive).
    CommentQuote
  • Any fresh deal in NE with any builder can be done in 2600-2800 AI.

    while in resale same flat can be purchased in 2300-2600 AI.(my pov and most of us will be agreed)
    CommentQuote
  • NEFOWA Update :

    NEFOWA has sent letters to Abhishek Mishra,Minister of State for Protocol and Azam Khan, Minister of state for urban devlopemnt requesting them to issue guidelines to builders and speed up the process of Master plan approval.

    To
    Prof. Abhishek Mishra
    Minister of State for Protocol
    U.P.

    We, NEFOWA (Noida Extension Flat Owners Welfare Association) are working for Noida Extension Flat buyers. We... are fighting for the dream home of over One Lac flat buyers since last one year.
    In this matter we would like to draw your kind attention that we over one Lac Noida Extension flat buyers belong to lower middle class, who hardly earn 15,000-25,000 per month, and dream to have own house near Delhi. For the last one year we are paying rent and EMI of bank without any construction work of our home. We are facing mental torture and have become handicapped financially as well as mentally.

    Now some builders have started cancelling their project in Noida Extension, we are afraid that these type of action could be followed by some other builders also. As the time passes problems of buyers are increasing day by day. Now some builders are showing their greediness. They are cancelling flats, so that they can sell these flats at higher rates.

    Looking into our miserable condition, we earnestly request you to kindly speed up the procedure of Master Plan approval and also,issue Guidelines for Builder and Banks as builders are sending Cancellation / Demand Letters and banks are taking EMI (with Interest). Without our fault, we are being harassed by all the concerned Authorities/ Builders/ Banks.

    Further, we request you not to take any such step which may stop us from getting our dream home.

    Your early action will be highly appreciated.

    Regards.
    On behalf of Noida Extension Flat Owners Welfare Association (NEFOWA)

    Shweta Bharti
    Gen. Secretary
    Date: 23rd July 2012
    CommentQuote
  • Noida Extention

    This is right time to invest in NOIDA extention, all the issues with farmers are resolved.
    1 Metro is proposed till noida extention
    2 NH 24 is being widend from 6 lane to 8 lane
    3 Road connecting to Faridabad, Noida, Gaziabad being developed.
    4 Road coming from Kalindi Kunj to Noida extention is being made redlight free.
    5 Construction work is expected to resume in 2 to to 3 months.
    6 banks will start financing.
    7 circle rates are going to rewise.
    8 Rates are expected to rise sharply
    CommentQuote
  • नोएडा भूमि अधिग्रहण पर बढ़ा मुआवजा देने का निर्देश

    इलाहाबाद : हाईकोर्ट ने नोएडा के गुलाबरी गांव के किसानों की याचिकाओं को निस्तारित करते हुए निर्देश दिया है कि किसानों को 64.7 फीसद बढ़ा हुआ मुआवजा और 10 फीसद अधिग्रहीत जमीन का प्लाट दिया जाए। यह आदेश न्यायमूर्ति विनीत सरन तथा न्यायमूर्ति गुसफ्ते अहमद की खंडपीठ ने किसान चंद्रपाल व अन्य की याचिका को गजराज सिंह केस में फुल बेंच के फैसले के आधार पर निस्तारित करते हुए दिया है। उल्लेखनीय है कि 17 जून 03 को किसानों की भूमि अधिग्रहीत की गई। अधिग्रहण अर्जेसी क्लॉज में किया गया जिसकी वैधानिकता को चुनौती दी गई थी।

    dainik jagran
    CommentQuote
  • किसानों ने ग्रेटर नोएडा की तर्ज पर मांगा मुआवजा

    ग्रेटर नोएडा : डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के लिए हो रहे अधिग्रहण पर किसानों ने ग्रेटर नोएडा की तर्ज पर मुआवजा देने की मांग की है। सोमवार को देवटा गांव में किसानों ने पंचायत कर निर्णय लिया कि ग्रेटर नोएडा की तर्ज पर मुआवजा व अन्य सुविधाएं नहीं मिली तो जमीन पर कब्जा नहीं लेने देंगे।
    गांव चीरसी, खेरली भाव, अस्तौली, मंडी श्यामनगर, जलालपुर व देवटा गांवों में उत्तर रेलवे द्वारा प्रस्तावित डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के लिए जमीन अधिग्रहीत करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। किसानों का कहना है कि देश हित के लिए जमीन देने से इंकार नहीं है, लेकिन सरकार इसके एवज में मात्र पांच लाख रुपये प्रति बीघा की दर से मुआवजा देना चाहती है। वे इसके लिए जमीन देने को तैयार नहीं है। ग्रेटर नोएडा की तर्ज पर मुआवजा व अन्य सुविधा दी जाए। इसके अलावा 25 फीसद विकसित भूखंड दिया जाए। प्रभावित प्रत्येक परिवार के एक सदस्य को रेलवे में नौकरी, प्लेटफार्म पर दुकान, क्योस्क आदि का निर्माण कर ग्रामीणों को उनका आवंटन करें। किसानों ने कहा कि मांग पूरी नहीं होने पर आंदोलन तेज किया जाएगा।

    Dainik Jagran
    CommentQuote
  • प्राधिकरण बोर्ड की बैठक कल

    नोएडा : नोएडा, ग्रेटर नोएडा व यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण की बोर्ड बैठक 25 जुलाई को होगी। बोर्ड बैठक में विकास से संबंधित कई प्रस्ताव मंजूरी के लिए रखे जाएंगे। पहली बार एक महीने में दो बार बोर्ड बैठक हो रही है। इससे पहले नौ जुलाई को बोर्ड बैठक हुई थी। वह भी लंबे अंतराल के बाद हुई थी। पिछली बोर्ड बैठक में सहमति बनी थी कि जल्द ही अगली बोर्ड बैठक होगी।


    dainik jagran
    CommentQuote
  • noida extention ka tention kab khatam hoga?
    kya abhi noida ext. me invest karna fayedemand hai?
    kya noida ext. me abhi kiya investment 2 year me double hoga
    ya kitne sal me 1,3,4,5,6....years..
    noida ext. me sabse badiya builder konsa hai
    CommentQuote