पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16356 Replies
Sort by :Filter by :
  • 10 minute pahle tak to koi update nahi tha. Maine Aaj tak , Star news , Zee news sare dekhliye. Jab issue start hua tha, to din raaat sare channel NE Tension hi dikha rahe the, aaj pata nahi kun sab ko saanp sungh gaya hai.

    Originally Posted by Akash1
    Any update on today's hearing ???
    CommentQuote
  • Very strange...no news channel is covering this thing. Is there something fishy out here??
    CommentQuote
  • Because media have negative midset and they show only that news that creates sensation and panic...
    CommentQuote
  • It appears to be at least heard today otherwise news would have come by now if hearing had been delayed further....
    CommentQuote
  • Originally Posted by ss185105
    10 minute pahle tak to koi update nahi tha. Maine Aaj tak , Star news , Zee news sare dekhliye. Jab issue start hua tha, to din raaat sare channel NE Tension hi dikha rahe the, aaj pata nahi kun sab ko saanp sungh gaya hai.


    Media RUN only behind TRP, few month before NE was NEW & Sensitive Issue and whole India was discussion about it. Now NE is old issue for Media and they think TRP will not be as high as last time because all are aware from this completely. So, Simply NO TRP NO MEDIA.

    BEST of LUCK for all NE Friends for good Verdict from HC this time.
    CommentQuote
  • The Allahabad High Court resumed hearing the farmers' petitions in the Greater Noida land acquisition row on Monday.

    The court will hear a total of 491 petitions filed by farmers challenging the acquisition of more than 3,000 hectares land for the development of Greater Noida and Noida Extension.

    The farmers have also alleged that the Uttar Pradesh government acquired their land by invoking the "urgency clause", which deprived them of a chance to raise objections to bargain for substantial compensation. The acquired land was later sold to private builders for the construction of housing complexes.

    In addition, farmers from Gautam Budh Nagar district have moved the high court over the quashing of the acquisition of 150 hectares of land in Shahberi village. The high court had asked the state government and Noida authority to file their counter-affidavits on the petitions filed by the farmers.


    Read more at: Greater Noida land row: Allahabad High Court resumes hearing : Uttar Pradesh: India Today
    CommentQuote
  • Frotolay bhai koch to bolo, kya raaz hai chuppi ka kholo...
    CommentQuote
  • Originally Posted by Veeru Dada
    Frotolay bhai koch to bolo, kya raaz hai chuppi ka kholo...


    One of guy is already in Allahabad HC....waiting for his updates after 5:30PM:)
    CommentQuote
  • Itna Sannata kyo hai Bhai!!!!!!!!!!!!

    This seems to be like "Toofan ke Phele Shanti":)
    CommentQuote
  • approx 350 petetion...and replied by authority... so will take time and judgement can not be given by judges in same day If they are not superman
    CommentQuote
  • aur upper se cong ka aur BSP ka danda...judges pe..

    Originally Posted by fritolay_ps
    approx 350 petetion...and replied by authority... so will take time and judgement can not be given by judges in same day If they are not superman
    CommentQuote
  • true but kuch to result / status hoga ????

    Originally Posted by shil2342
    aur upper se cong ka aur BSP ka danda...judges pe..
    CommentQuote
  • Too Relaxed

    Seems everyone is too relaxed about this by now and it is heading the 'Tareekh pe Tareekh way'

    20k houses on stake just in Patwari - there is no fire / no news / no nothing!!

    - Farmers have already said that if the verdict against them they will go to Supreme court :bab (4):

    Its the Builders and flat owners/buryers who have their balls squeezed! :bab (5):
    CommentQuote
  • the results of all the hearings before this were done before afternoon.
    if the verdict has still not come....my gut feeling is that there is fruitful dialogue going and some positive news will come.

    sabar ka phal meetha hota hai...
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    One of guy is already in Allahabad HC....waiting for his updates after 5:30PM:)


    fritolay bhai, 5.30 ke 6.00 ho gaye. kucch to update nikalo
    CommentQuote