पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • No news on timesofindia site. very strange
    CommentQuote
  • नोएडा एक्सटेंशन में फ्लैट खरीदनेवालों के लिए राहत की खबर है. एनसीआर प्लानिंग बोर्ड ने मास्टर प्लान 2021 को मंजूरी दे दी है. नोएडा एक्सटेंशन में निर्माण का काम अब कभी भी चालू हो सकता है. गौरतलब है‍ कि 28 जून को ही दिल्‍ली स्थित एनसीआर प्लानिंग बोर्ड की एक समिति ने मास्‍टर प्‍लान, 2021 को कुछ शर्तों के साथ मंजूरी दे दी थी. इसी वक्‍त नोएडा एक्‍सटेंशन में निर्माण कार्य फिर शुरू होने का रास्‍ता एक तरह से साफ हो गया था.
    गौरतलब है कि नोएडा एक्सटेंशन में करीब दो लाख निवेशकों ने फ्लैट बुक कराए हैं. इलाहाबाद हाइकोर्ट ने आदेश दिया था कि एनसीआर प्‍लानिंग बोर्ड से मास्‍टर प्‍लान को मंजूरी मिले बिना नोएडा एक्‍सटेंशन में निर्माण कार्य नहीं किया जा सकेगा.
    नोएडा एक्सेंशन में जमीनों के अधिग्रहण के खिलाफ किसान अदालत चले गए थे जिसके बाद अलग-अलग फैसलों में कई गांवों के अधिग्रहण को रद्द कर दिया गया था.
    बाद में कोर्ट से राहत मिलने के बाद एनसीआर प्लानिंग बोर्ड ने मास्टर प्लान में बदलाव कर उसे हरी झंडी दे दी थी. एनसीआर प्लानिंग बोर्ड के बाद अब केंद्र सरकार के शहरी विकास मंत्रालय से हरी झंडी मिलने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार इसे लागू कर देगी.


    CommentQuote
  • G. Noida forum would come up before ghaziabad forum in Most popular category
    CommentQuote
  • Originally Posted by iamonpc
    No news on timesofindia site. very strange

    Bhaiya

    Its not paid news na?
    L:DL
    CommentQuote
  • Thats Awesome Guys !!! :)

    Big wala Congrats to all the buyers and hats off to their patience !!!

    Kal weekend bhi hai ... so for sure NE mein poora mela lagne wala hai :)
    CommentQuote
  • all reporters busy outside Kamal nath's home.. even they are still not able to get "Original news" without geting paid from builder....
    CommentQuote
  • नोएडा एक्‍सटेंशन की टेंशन खत्‍म, मास्‍टर प्‍लान मंजूर

    अगर आपने नोएडा एक्सेंटशन में घर बुक कराया है तो आपका टेंशन खत्म. आपके लिए अच्छी खबर आई है. एनसीआर प्लानिंग बोर्ड ने मास्टर प्लान 2021 को मंजूरी दे दी. लेकिन इस पर आखिरी मुहर इलाहाबाद हाईकोर्ट की लगेगी. क्योंकि वहां ग्रेटर नोएडा की आवासीय योजनाओं से संबंधित मामले लंबित हैं.


    मास्टर प्लान को मंजूरी मिलने के बाद गाजियाबाद-नोएडा-फरीदाबाद कॉरीडोर पर बचे हुए 50 फीसदी काम के लिए निर्माण कार्य तेज हो जाएगा. फिलहाल, बोर्ड के फैसले पर ग्रेटर नोएडा ऑथरिटी अपनी औपचारिकता पूरी करेगी. यानी अपनी सिफारिशों के साथ इसे इलाहाबाद हाईकोर्ट भेजेगी.

    गौरतलब है‍ कि 28 जून को ही दिल्‍ली स्थित एनसीआर प्लानिंग बोर्ड की एक समिति ने मास्‍टर प्‍लान, 2021 को कुछ शर्तों के साथ मंजूरी दे दी थी. इसी वक्‍त नोएडा एक्‍सटेंशन में निर्माण कार्य फिर शुरू होने का रास्‍ता एक तरह से साफ हो गया था.

    गौरतलब है कि नोएडा एक्सटेंशन में करीब दो लाख निवेशकों ने फ्लैट बुक कराए हैं. इलाहाबाद हाइकोर्ट ने आदेश दिया था कि एनसीआर प्‍लानिंग बोर्ड से मास्‍टर प्‍लान को मंजूरी मिले बिना नोएडा एक्‍सटेंशन में निर्माण कार्य नहीं किया जा सकेगा.

    नोएडा एक्सेंशन में जमीनों के अधिग्रहण के खिलाफ किसान अदालत चले गए थे जिसके बाद अलग-अलग फैसलों में कई गांवों के अधिग्रहण को रद्द कर दिया गया था. \

    बाद में कोर्ट से राहत मिलने के बाद एनसीआर प्लानिंग बोर्ड ने मास्टर प्लान में बदलाव कर उसे हरी झंडी दे दी थी. एनसीआर प्लानिंग बोर्ड के बाद अब केंद्र सरकार के शहरी विकास मंत्रालय से हरी झंडी मिलने के बाद उत्तर प्रदेश सरकार इसे लागू कर देगी

    AAJTak
    CommentQuote
  • NCRPB approves Noida Extension Master Plan

    All the members of the NCR Planning Board and the Chief Ministers of the member-states have signed the approval," Naini Jayaseelan, Member-Secretary NCRPB told reporters. The National Capital Region Planning Board has Delhi, Uttar Pradesh, Haryana, Rajasthan as its member-states.

    The Allahabad High Court had stayed construction in Noida Extension, which is a part of Greater Noida, and directed the Greater Noida Authority to seek approval of its Draft plan from the NCR Planning Board.

    The Board, which is chaired by Union Urban Development Minister Kamal Nath, has okayed the Draft Master Plan with the understanding that the earlier recommendations made by the NCRPB technical committee would be incorporated in the plan, officials said.

    A statutory committee of NCRPB had already given the the Draft plan the go-ahead after suggesting some modifications, sources said.

    In Noida Extension, about 2.5 lakh homes were being developed, of which nearly 1.5 lakh have already been sold.

    The developers welcomed the decision of NCRPB.

    "We are very happy, it is a good news for buyers, developers and farmers. It is a great relief for all stakeholders," Amrapali CMD Anil Sharma said.

    NCRPB approves Noida Extension Master Plan
    CommentQuote
  • Big congrats to all endusers/inverstors :P
    CommentQuote
  • Gr8...Now Allahbad High court then Supreme Court...Two more hurdles i thinkk...We will Win surelyy...
    CommentQuote
  • Gaurcity and Gaurcity 2 sites are down... lagta hai nayi ratelist upload kar rahe hain.
    CommentQuote
  • Shyaad rates itna increase kardiya ki site hi down hogyaa..load nhi le paarahaa...
    CommentQuote
  • Originally Posted by biswajit2012
    Shyaad rates itna increase kardiya ki site hi down hogyaa..load nhi le paarahaa...



    Site down hai ya domain expire ho gaye :D:D:D:D:D:D
    socha hoga renew karae ya nhi.

    vaise bahut se agent companies ab fir se domain renw kar sakenge
    CommentQuote
  • number of posts of Greater Noida forum crossed Ghaziabad forum
    CommentQuote
  • now greater noida forum is above ghaziabad, hope it will remain above
    CommentQuote