पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • Is there any project in noida extension on which PSU bank is giving loan like SBI???

    please guide
    CommentQuote
  • Originally Posted by dhanam
    Hi
    What about axis bank. I have already taken loan from Axis for Mywoods & got 1st disbursement last year.
    thanks


    HDFC/Axis and other 7 banks are on the line.. they will announce by Monday onwards... Nefoma has checked with many banks regional heads and all confirmed that they will have internal meeting this week and announce official annoucement next week.

    btw.. assuming 1.5 lakh flats.. ...average price 23 lakh means... 34500 crores... WOW.. bank to malamal ho jayenge.. interest kama kama ke....:(
    CommentQuote
  • Originally Posted by desmataks
    Is there any project in noida extension on which PSU bank is giving loan like SBI???

    please guide


    SBI never interested in NE due to payment plan and leasehold issue i guess but PNB, BOB, allahabad bank and other banks are financing
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    SBI never interested in NE due to payment plan and leasehold issue i guess but PNB, BOB, allahabad bank and other banks are financing

    thanks for quick answer fritolay!!

    but what is the problem with SBI if other PSU banks are approving... Some one suggested me to buy only with SBI loan as its hard earned money. what do u and others say..
    CommentQuote
  • Originally Posted by desmataks
    thanks for quick answer fritolay!!

    but what is the problem with SBI if other PSU banks are approving... Some one suggested me to buy only with SBI loan as its hard earned money. what do u and others say..


    SBI doesn't want to be Maalamaal. :D
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    HDFC/Axis and other 7 banks are on the line.. they will announce by Monday onwards... Nefoma has checked with many banks regional heads and all confirmed that they will have internal meeting this week and announce official annoucement next week.

    btw.. assuming 1.5 lakh flats.. ...average price 23 lakh means... 34500 crores... WOW.. bank to malamal ho jayenge.. interest kama kama ke....:(



    Koi baat nahi... Government scams se zaada nahi kama paayenge!
    CommentQuote
  • What part is financed by the bank ? Like BSP, PLC, Backup, Parking, Club
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    जेल का निर्माण कार्य रोकने की चेतावनी


    ग्रेटर नोएडा : लुक्सर गांव में बृहस्पतिवार को किसानों की पंचायत हुई। पंचायत में किसानों ने कहा कि बिना मुआवजा दिए उनकी जमीन पर जिला कारागार का निर्माण कार्य किया जा रहा है। इसलिए अब जेल का निर्माण कार्य नहीं होने दिया जाएगा। गांवों में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध नहीं है, सीवर व सड़क निर्माण की अनियमितता बरती गई है। शिकायत के बाद भी कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। किसानों ने कहा कि प्राधिकरण उनकी मांगों को पूरा नहीं किया तो निर्माण कार्य नहीं होने दिया जाएगा। पंचायत में गांव के सभी ग्रामीण मौजूद थे।

    dainik jagran



    is liye jail banne nahi de rahe kyonki agar authority ya government se panga lenge toh usi jail main jaane padega jo in kisaano ki jammen pe benega ;)
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    SBI never interested in NE due to payment plan and leasehold issue i guess but PNB, BOB, allahabad bank and other banks are financing



    fritolay bhai... PNB nahi hai .. i asked them and they told the same like SBI
    CommentQuote
  • Originally Posted by bhiku mhatre
    Whosoever is saying subhkamna city project is for public sector people is just spreading rumours. Mark these people.

    Earlier somebody had said that since land has been given by Govt therefore it is only for govt sector employee. These things are not possible and wud have been possible only thru govt agency and not thru pvt average builders.


    The project is said to be managed by Government and Public Sector Housing Welfare organization.
    CommentQuote
  • arey yaraon what about price hike intentions of builders now.
    are they really going to hike the price for existing buyers.
    CommentQuote
  • Originally Posted by powerhonda
    arey yaraon what about price hike intentions of builders now.
    are they really going to hike the price for existing buyers.


    Bhai ye koi poochne ki baat hai? Existing buyers se mangna hai isiliye to discussion chal raha hai .. varna naye buyers ke liye to rate badhte hi rehte hain.

    Vaise Supertech wale ka bas chale to jinhone nahi flat kharida unse bhi paise maang lega .. vo dekhne me hi beimaan lagta hai .. soniya gandhi ki najar pad gayi to congress ki taraf se rajya sabha me bhej degi. :D
    CommentQuote
  • Originally Posted by powerhonda
    arey yaraon what about price hike intentions of builders now.
    are they really going to hike the price for existing buyers.


    Powerhonda bhai, ek baat batao, agar kar bhi denge to hum log IREF pe kya ukhaaad lenge?

    I mean, why worry?
    CommentQuote
  • NEFOMA update

    Dear Buyers,

    Today (31.08.2012) NEFOMA had a meeting with Mr Kamal Nath, Union Cabinet Minister of Urban Development, Government of India and gives a latter from Buyers side on issue of FAR and the problems which is facing from past to current.

    Minister of Urban Development taken all the point in to consideration and forwarded to Secretary (Urban Development, central government) with a meeting ...
    which also going to be held in coming week. Mr. Minister also interested to meet NEFOMA again after the meeting with Secretary (Urban Development, central government).

    While the talking in the meeting they said “Noida Extension is part of National Capital region and all type of development in this area must be continuing…..on the bank loan approval he said “The area is a part of NCR and Master Plan 2021 also pass by the central government, bank should continue funding in this area at present why not the bank are not approving loan, it’s matter of discussion only”

    Admin NEFOMA
    Attachments:
    CommentQuote
  • .
    Attachments:
    CommentQuote