पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • NEFOWA Update

    Today Team Nefowa had a meeting with CREDAI president Mr. Manoj Gaur at their Sector-63 office at 11 am, MOM are as under :

    1. No price escalation for old buyers
    2. No change in layout plan for towers already under constructions
    3. Demand letters should give at least 60 days time for payment (means by 24 October)
    4. Some banks already started disbursement of loans Corporation Bank and Bank Of Maharashtra.
    5. FAR will increase in towers, which are to be launched in future
    6. 10% means as per buyers agreement. In case no BBA has been signed, then application form’s instructions will be final.
    7. SC has not given any stay on construction in its last month’s verdict, and also gave 4 point guidelines to authority (which are also favoring Buyers / Builders)

    TEAM NEFOWA
    Attachments:
    CommentQuote
  • Originally Posted by MANOJa



    no structure in Noida extension has reached at this level of construction.... all paid news to lure innocent buyers..
    CommentQuote
  • Originally Posted by del_sanju
    I have checked in Corp bank thru my sister who hs taken loan for Ecocity. As per that guy Corp bank is financing n disbursing loan.



    sanju this is ecocity or ecovillage ??
    CommentQuote
  • Originally Posted by fritolay_ps
    NEFOWA Update

    Today Team Nefowa had a meeting with CREDAI president Mr. Manoj Gaur at their Sector-63 office at 11 am, MOM are as under :

    1. No price escalation for old buyers
    2. No change in layout plan for towers already under constructions
    3. Demand letters should give at least 60 days time for payment (means by 24 October)
    4. Some banks already started disbursement of loans Corporation Bank and Bank Of Maharashtra.
    5. FAR will increase in towers, which are to be launched in future
    6. 10% means as per buyers agreement. In case no BBA has been signed, then application form’s instructions will be final.
    7. SC has not given any stay on construction in its last month’s verdict, and also gave 4 point guidelines to authority (which are also favoring Buyers / Builders)

    TEAM NEFOWA


    As per SMS received by me from Amrapali, Corporation Banka and Bank of Maharashtra are sanctioning and disbursing loans for Amrapali projects in G.N (West).
    CommentQuote
  • दुजाना में किसानों ने शुरू की भूख हड़ताल


    ग्रेटर नोएडा : दुजाना गांव में बिल्डरों को जमीन देने के खिलाफ किसानों का 55 दिन से चला आ रहा धरना शुक्रवार को अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल में तब्दील हो गया। किसानों ने कहा कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होती, भूख हड़ताल जारी रहेगा। दुजाना गांव में किसान अपनी मांगों को लेकर लंबे अर्से से आंदोलन कर रहे हैं। प्रशासन की तरफ से कोई सुनवाई नहीं होने पर किसानों ने शुक्रवार से भूख हड़ताल शुरू कर दिया। किसान संघर्ष समिति व संयुक्त किसान समिति ने भूख हड़ताल का समर्थन किया।

    Dainik Jagran
    CommentQuote
  • Originally Posted by asuyal1
    sanju this is ecocity or ecovillage ??


    Ecociti in sec 137. I askd her to check with corp bank weder they r financng for gaur city.
    CommentQuote
  • whos' who?
    CommentQuote
  • Originally Posted by leo1609
    Simply because, this is Greater Noida...they have done the right thing by putting G. Noida.


    Also may be due to negative publicity of noida extension name they are avoiding it and using only G noida.
    CommentQuote
  • Originally Posted by del_sanju
    whats this- Amrapali Verona Heights


    Min size 975 , 34 floors , 31.45 lakhs onwards ..
    CommentQuote
  • why Amrapali lauching so many projects
    CommentQuote
  • Originally Posted by proplus
    why Amrapali lauching so many projects





    Aree bhai. Jab sab kuch bik raha hai to builder kyo na beche.
    CommentQuote
  • Demand letter with interset???

    Hi received the demand letter from Gaur sons today, they are asking for 11% interest on pending amount before oct'11... (Don't know but as per their demand letter calculation they have showed 11% of installement due till Oct'12, will call Gaur tomorrow)

    Also mentioned we may increase FAR in future and buyer need to sign a NOC for the same. If you are not aggree to pay the interest and increase FAR then you can cancel your apartment, Gaur will refund whole amount with 11% interest!

    Have anyone received similiar kind of demand letter...? please confirm.
    CommentQuote
  • Originally Posted by del_sanju
    whats this- Amrapali Verona Heights


    yeah advertisement was there in newspaper today .. but they didnt specify whether its in noida extn or in normal gnoida !
    CommentQuote
  • Originally Posted by trialsurvey
    yeah advertisement was there in newspaper today .. but they didnt specify whether its in noida extn or in normal gnoida !





    Bhai it is high rise part of amrapali lesuire park. An amrapali's project at NE.
    CommentQuote
  • Today i visited two projects in NE, vedantam and jkg palm court. I was amazed to see the price list of vedantam. 3340+80 lease rent + 15 ifms + view plc + 1L open car parking for 14 floor. Maximum discount 6-8%.
    CommentQuote