पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16356 Replies
Sort by :Filter by :
  • Originally Posted by Sunder_Lal
    Bhiyaa .. Aapki situation pe arj kiya hai ...

    Ishq me hum tumhe bataye .. kis kadar chot khaye hue hain...
    ek 2bhk amrapali aur ek supertech me book karaye hue hain ... :bab (59):


    Waah Sunder bhai, atti Sundar :)
    CommentQuote
  • Originally Posted by Sunder_Lal
    Bhiyaa .. Aapki situation pe arj kiya hai ...

    Ishq me hum tumhe bataye .. kis kadar chot khaye hue hain...
    ek 2bhk amrapali aur ek supertech me book karaye hue hain ... :bab (59):


    Arz kia hai.... 2017 main jab sab builder possesion ki chaabi de rahe hoonge...

    Chaabi de rahe honge....

    Tab supertech aur amrapaali walle twinkle khanna ka chasma aur dhoni ka sign kia hua balla flat ke badle de rahe honge....

    arora jie and sharma jie bolenge ... sir flat toh bana nahi... Yeh le lo... Inki market value bhi yahi hai...

    yeyeyeyeyyeyyehehehehhehe
    CommentQuote
  • Originally Posted by asuyal1
    Bhai zaroor karwaa leta cancel lekin jis rate main flat lia tha.... Us rate main currently khoda noida main milega same size ka flat....

    Ab toh zab tention hoti hai main ek calsberg elephant pee leta hoon...

    zamana aaisa hai ki dawa kaam kare na kare daaru/beer kaam zaroor karti hai


    drink beer fock fear !
    CommentQuote
  • CommentQuote
  • ग्रेनो वेस्ट में किसानों ने दिया धरना
    Updated on: Sun, 28 Oct 2012 10:28 PM (IST)


    संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा वेस्ट में किसान चौक पर रविवार को किसानों ने धरना दिया। किसानों ने प्राधिकरण को चेतावनी दी कि सिर्फ दो गांवों में 15 दिन के अंदर दस फीसद विकसित भूखंड आवंटित करके दिखाए। इसके बाद भी प्राधिकरण मांग पूरी नहीं कर पाता है तो 15 नवंबर से फिर निर्माण कार्य बंद कराया जाएगा।

    घोड़ी बछेड़ा, बिसरख, मायचा, सैनी, जुनपत, रोजा, पतवाड़ी, खैरपुर, तुस्याना, चौगानपुर, ऐमनाबाद, सिरसा, खानपुर, पाली, डाढ़ा, बादलपुर समेत करीब 25 गांवों के किसान धरने में शामिल हुए। इस दौरान किसानों ने कहा कि प्राधिकरण व प्रशासन ने कई बार लिखित में समझौता करने के बाद भी समझौते को लागू करने के बजाय किसानों को गुमराह कर राजनीति करने का काम कर रहा है। किसान नेता रमेश रावल ने कहा कि प्राधिकरण फूट डालो राजनीति करो की नीति के बजाय अपने द्वारा लिखित समझौते एवम हाईकोर्ट के आदेश का पालन करें। प्राधिकरण के सीईओ के उस बयान पर कि क्षेत्र के किसान विकास चाहते हैं या विनाश। इस पर किसानों ने सीईओ से पूछा कि प्राधिकरण क्षेत्र के किसानों का विकास चाहते हैं या विनाश। किसानों ने निर्णय लिया है कि अगर प्राधिकरण किसानों के साथ धोखा नहीं कर रहा, तो प्राधिकरण क्षेत्र के किसी दो गांवों के किसानों को दस-दस फीसद विकसित भूखंड उपलब्ध कराकर दिखाए। उनकी आबादियों का पूर्णतय निस्तारण कर उनके नाम पर वापस करके दिखाए। उनका बकाया मुआवजा वितरित करके दिखाए। किसानों ने कहा है कि किसी दो गांवों के किसानों को 15 नंवबर तक पूरा करके दिखाए। समिति के प्रवक्ता मनवीर भाटी ने कहा कि किसानों ने निर्णय लिया है कि 31 अक्टूबर को सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव के नोएडा आने पर उनको क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराएंगे। उन्होंने बताया तक 15 नवंबर के बाद समस्त ग्रेटर नोएडा में निर्माण कार्य बंद कराकर आरपार की लड़ाई लड़ी जाएगी। इस दौरान अजब सिंह, ओमपाल भाटी, भीम सिंह नागर, रघुवर, अजय प्रधान, डा. जगदीश नागर, मदन, राजेंद्र, जुगेंद्र, देवेंद्र भाटी, बलराज, मनोज गुप्ता, गिरीश त्यागी, मान सिंह, बिजेंद्र, विजय नागर, कालूराम शर्मा, रवि, रतन पाल, कर्ण सिंह, उधम सिंह, टीकम यादव, अशोक त्यागी आदि लोग मौजूद थे।
    CommentQuote
  • किसानों ने दिया 15 दिन का अल्टिमेटम

    नवभारत टाइम्स | Oct 29, 2012, 02.46AM IST
    ग्रेटर नोएडा।। अथॉरिटी की तरफ से मुआवजा बांटने और गांवों में विकास कार्यों पर रोक लगाने के विरोध में रविवार को किसानों ने ग्रेटर नोएडा वेस्ट एरिया में किसान चौक पर महापंचायत की। इसमें अथॉरिटी अधिकारियों को 15 दिन का वक्त दिया गया। इस दौरान आह्वान किया गया कि 31 अक्टूबर को नोएडा में होने वाले गुर्जर महासम्मेलन में अधिक से अधिक संख्या में किसान पहुंचे। किसान नेताओं ने फैसला किया कि वे सम्मेलन के चीफ गेस्ट एसपी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव से मिलकर अपनी समस्याओं का एक ज्ञापन सौंपेंगे। उन्हें बताएंगे कि किस तरह अथॉरिटी के अधिकारी किस तरह किसानों को परेशान कर रहे हैं।

    वहीं इस महापंचायत में किसानों ने ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी अधिकारियों को 15 दिन का समय दिया है। किसानों ने ऐलान किया है कि अगर अथॉरिटी 15 दिन में एरिया के किसी भी 2 गांवों के किसानों का पूरा मुआवजा , प्रतिशत आबादी के प्लॉट और आबादी की समस्या का हल नहीं करती है , तो किसान अथॉरिटी का बहिष्कार करेंगे और पूरे ग्रेटर नोएडा में कही पर भी विकास कार्य नहीं होने देंगे। महापंचायत को संबोधित करते हुए किसान संघर्ष समिति के प्रवक्ता मनवीर भाटी ने कहा कि अथॉरिटी में तैनात अफसरों की पोल वह मुलायम सिंह के नोएडा आगमन पर खोलेंगे। उन्होंने कहा कि अथॉरिटी को 15 दिन का मौका दिया गया है। इन 15 दिनों तक किसान अपने हकों के लिए गांव - गांव पैदल मार्च करेंगे। गांवों में जन जागरण अभियान चलाया जाएगा।
    CommentQuote
  • Originally Posted by ChetanK
    Hope you find it helpful and ya make sure you have a guarantor and 2 sets of docs are req for you and guarantor. Hope this helps..... :)

    Hi Chetan

    I got my loan approved from Corporation bank, noida, bank is asking for 10300 worth stamp papers for mortgage fees.
    Please confirm whether you have paid that.

    Thanks
    CommentQuote
  • What is this NOC Signing camp???

    Iska kya purpose hai???

    Originally Posted by del_sanju
    Also few also came with application to extend the due date as their bank ws nt disbursing and were getting it signed by gaur person.

    n first floor par toh NOC signing camp laga hua tha. NOC sign karo toh paymnt lenge
    CommentQuote
  • Originally Posted by Kaashvi
    What is this NOC Signing camp???

    Iska kya purpose hai???




    NOC for FAR increase/ siteplan change+ delivery date extension.:)

    Itni bheed thi mano sarkari camp laga ho.
    CommentQuote
  • Originally Posted by del_sanju
    NOC for FAR increase/ siteplan change+ delivery date extension.:)

    Itni bheed thi mano sarkari camp laga ho.


    Yeh aisa cyclone hai ki jo fass gaya, woh bahar nahi nikal sakta. NOC to sign karne hi paregi ab or agge bhi karne paregi.
    CommentQuote
  • Originally Posted by hindustan
    Yeh aisa cyclone hai ki jo fass gaya, woh bahar nahi nikal sakta. NOC to sign karne hi paregi ab or agge bhi karne paregi.


    koi nahin bhai ending will be good only
    bottom line is that although u guys did have to face lots of tension during last 1.5 yr .. but now the opportunity to buy a flat at rates in the range of 1700-2000 psf will never come back again in NCR .. you guys faced tough times but will enjoy good rewards in future

    cheers
    :)
    CommentQuote
  • Originally Posted by trialsurvey
    koi nahin bhai ending will be good only
    bottom line is that although u guys did have to face lots of tension during last 1.5 yr .. but now the opportunity to buy a flat at rates in the range of 1700-2000 psf will never come back again in NCR .. you guys faced tough times but will enjoy good rewards in future

    cheers
    :)


    Bhai 2015 me kitna rate hoga kuch andaja hai?
    CommentQuote
  • Originally Posted by Sunder_Lal
    Bhai 2015 me kitna rate hoga kuch andaja hai?



    Approx 5000-6000.
    CommentQuote
  • Originally Posted by Pradyot1315sqf
    Approx 5000-6000.


    o teri .. matlab 3 yrs mein double !! bhai phir toh abhi bhi khareedne mein fayeda hee hai ! :D
    CommentQuote
  • Originally Posted by Pradyot1315sqf
    Approx 5000-6000.


    Iska matlab abhi jaha 5000 hai vaha kitna hoga? 9000- 10000?

    Main soch raha tha ki possession milne ke baad kiraya bachega aur thodi salary bhi badh jayegi tab ek aur 2bhk noida me loonga.. magar lagta nahi ki aisa kuch ho payega?
    CommentQuote