पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • Originally Posted by Chaudhary Sahab
    are sunder lal ji apne bhi DP mai liya hua hai na....kis GC mai liya hai..mera GC6 mai hai....gaurcity 1..par ab tak salo ne noc sign nahi karayi....bolo apka to paisa aaya hua hai...par sale possesion date to bata deta....i m looking if any one og GC6 got the revised possesion date


    Bhaisaab .. 2 din se yaha aaya nahi isliye der ho gayi response me main bhi GC6 me hi hu.

    Ek baat kahu ..bura mat maan jana .. kaali jabaan hai aapki.:D

    jis din aapne ye likha usi din mere ghar pe NOC wala letter aa gaya ... possession date May 2015 hai. likha hai ki aap aake sign kar do .. mere paas abhi time nahi ki jake unki manhoos shakal dekhu .. aur main abhi kyu sign karu? main to dp me leke baitha hoo ... possession ke time pe hi sign karunga aur possession milt hi court me case kar doonga .. ki mujhe chu*iya banaya ..
    5 saal me possession diya aur layout chnage karne ka bataya bhi nahi .. dete time sign karaya.. ;)

    Agar aap DP me ho to sign mat karna ... agar kara to ek kahawat hai aapne to suni hogi ---> aa bail meri maar :D:D:D
    CommentQuote
  • Originally Posted by skumar_31
    भूमि अधिग्रहण विधेयक को कैबिनेट की मंजूरी



    source : Ramesh Vyas
    published: 13/12/2012 | 21:33:31 IST


    नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने गुरूवार को भूमि अधिग्रहण विधेयक को मंजूरी दे दी। इसमें निजी कम्पनियों द्वारा किए जाने वाले भूमि अधिग्रहण में 80 फीसदी प्रभावित भूस्वामियों से मंजूरी लेने का प्रावधान है।

    विधेयक में सार्वजनिक-निजी साझेदारी परियोजना में भी भूमि अधिग्रहण में 70 फीसदी भूस्वामियों से मंजूरी लेने का प्रावधान है।

    विधेयक के एक प्रावधान के मुताबिक अधिग्रहित की गई भूमि यदि पांच साल तक उपयोग नहीं की जाती है, तो अधिग्रहण रद्द हो जाए


    Khabar post ki thik hai .. iski foto kyu post ki? pata nahi kal subah breakfast milega ya nahi?
    CommentQuote
  • Originally Posted by REDUDE
    Sanju bhai.. baat to itni achi boli aapne.... but jab credible builders ki list bataayi to 2 sabse worst builders ka naam daal diya --- Supertech and Amrapali..


    Bhai aamrapali itna bhi bura nahi hai .. ek anil sharma hi hai jisne buyers ko kuch co-operate kiya hai .. varna baaki sab to khoon pine ko taiyar hain.
    CommentQuote
  • Another Land Aquisistion cancelled by SC in Gr. NOIDA.. this ia Authority builde up housed in ETA

    Another Land Acquisition cancelled by SC in Gr. NOIDA.. this is Authority buildup houses in ETA - Gr Noida..




    GOD KNOWS THE FATE OF NE o
    Attachments:
    CommentQuote
  • Originally Posted by Johny123
    Another Land Acquisition cancelled by SC in Gr. NOIDA.. this is Authority buildup houses in ETA - Gr Noida..




    GOD KNOWS THE FATE OF NE o


    Ye sale GNA ke officers kuch karte hi nahi hai .. inki vajah se hi HC me itni acquisitions cancel hue. Agar kisi builder ki jameen hoti kabhi cancel na hoti.
    CommentQuote
  • true in all aspects
    CommentQuote
  • Nefowa NoidaExtension Update :




    ‎==============================================
    All Buyers meeting on 16th Dec. at 12.00 noon.
    ==============================================
    Dear buyers,
    Apart from old defamed builders others builders have also started harassing existing buyers like us. It is the need of the hour to discuss problems created by builders & their possible solutions in details so that we can make our plan of actions.
    Keeping this in mind all Noida Extension Buyers meeting has been scheduled at Noida Extension Golchakkar on 16th Dec. at 12.00 noon.
    All buyers (effected or unaffected) are requested to attend this meeting.
    Please understand that -
    • We cannot win alone.
    • We cannot win sitting at home.
    • We cannot win without any action.
    • We can win only through our action.
    • Until unless more & more buyers come together a collective action is not possible.
    So wake up guys, join this meeting and help in carving out the plan of actions and its implementation.
    "Others are fighting then what is the need of mine.. there will be no difference with my presence" -- please avoid such attitude and participate with us.

    Meeting details are :
    Time: 16th Dec. at 12.00 noon
    Venue: Noida Extension Gol Chakkar (Gaur City Circle)
    Agenda : Open agenda but related to buyers problem and the solution.

    --- TEAM NEFOWA


    CommentQuote
  • संसद में मांग, एनएच-24 और एनएच-58 को करो 8 लेन

    - एनएच-24 को चौड़ा करने का प्लान तीन साल मंे पांच बार बना
    - एनएच-58 को भी चौड़ा करने की योजना एक बार बनी
    - मोदीनगर एरिया में 6 किमी. तक एनएच-58 को 4 से 6 लेन किया गया, लेकिन जाम से नहीं मिली निजात
    कई बार आश्वासन मिलने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई है। मैंने दोनों हाइवे को चौड़ा करने की योजना की स्टेटस रिपोर्ट पेश करने की मांग की है।
    राजनाथ सिंह
    सांसद, गाजियाबाद एनएच-24 को चौड़ा करने के प्रोजेक्ट की फिलहाल मुझे जानकारी नहीं है।
    ए. पी. सिंह
    इग्जेक्यूटिव इंजीनियर
    पीडब्ल्यूडी
    इंट्रो
    एनएच-24 और एनएच-58 को आठ लेन करने की मांग गाजियाबाद के सांसद राजनाथ सिंह ने बुधवार को संसद में उठाई। केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्री सी. पी. जोशी ने इस मांग पर ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया। इससे उम्मीद पैदा हुई है कि नॉर्थ इंडिया की लाइफलाइन समझे जाने वाले इन दोनों हाइवे को जाम से निजात दिलाने और इन पर ट्रैफिक की रफ्तार बढ़ाने के कदम जल्द उठाए जाएंगे।
    एनएच-24 पर ट्रैफिक का दबाव
    यूपी गेट से डासना टोल तक 20 किमी. एरिया में एनएच-24 पर ट्रैफिक का काफी दबाव है। सेंट्रल रोड रिसर्च इंस्टिट्यूट (सीआरआरआई) की एक ट्रैफिक सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक, एनएच-24 पर ट्रैफिक का सबसे ज्यादा दबाव इंदिरापुरम के सीआईएसएफ कट से यूपी गेट तक है। इस रूट पर रोज औसतन 2 लाख 94 हजार गाडि़यां गुजरती हैं। उधर, यूपी गेट से डासना टोल तक रोज औसतन 2 लाख 27 हजार गाडि़यां आती-जाती हैं। इसमें हैवी ट्रैफिक का हिस्सा करीब 42 पर्सेंट पाया गया है।
    एनएच-58 पर दबाव
    इस रोड पर गाजियाबाद से मोदीनगर तक रोज औसतन 1 लाख 37 हजार गाडि़यां गुजरती हैं।
    22 किमी ./ घंटा की स्पीड
    ट्रैफिक रिपोर्ट के मुताबिक , सुबह नौ बजे से लेकर 11 बजे तक डासना टोल से यूपी गेट तक के ट्रैफिक की औसत स्पीड महज 22 किमी . प्रति घंटा है। व्यस्त समय में इंदिरापुरम के सीआईएसएफ कट से लेकर यूपी गेट तक ट्रैफिक की स्पीड तो और भी कम होकर महज 17 किमी . प्रति घंटा रह जाती है।
    नगर संंवाददाता॥ नवयुग मार्केट
    एनएच -24 को यूपी गेट से डासना टोल तक चौड़ा करने का प्लान पिछले तीन सालों में पांच बार बन चुका है। हर बार रास्ते में कोई न कोई रोड़ा आ गया।
    नया बस अड्डा के पास तिराहे से मेरठ तक एनएच -58 रोड को चौड़ा करने का प्लान भी दो बार बना , लेकिन उन पर कदम नहीं बढ़े।
    जीडीए ने मोदीनगर एरिया में एनएच -58 को 6 किलोमीटर तक 4 से 6 लेन किया है , लेकिन ट्रैफिक जाम का चैप्टर क्लोज करने के लिए इतनी चौड़ाई काफी साबित नहीं हो रही है।
    एनएच -24 के लिए पांच बार बने प्लान
    एनएचएआई ने सीआरआरआई की रिपोर्ट के आधार पर पांच बार इस रोड को चौड़ा करने का प्लान बनाया। एनएच -24 के यूपी गेट से डासना टोल तक के हिस्से का रखरखाव पीडब्ल्यूडी कर रहा है।
    पहला प्लान : पीडब्ल्यूडी के तत्कालीन इग्जेक्यूटिव इंजीनियर रविदत्त ने मार्च 2009 में पहली बार इस रोड को चार से छह लेन करने का प्लान तैयार किया। प्लान मंजूरी के लिए शासन के पास भेजा गया , लेकिन इस प्लान को केंद्र सरकार ने रद्द कर दिया।
    दूसरा प्लान : इसके बाद जीडीए , आवास विकास परिषद , नोएडा और ग्रेटर नोएडा ने मिलकर यूपी गेट से लाल कुंआ तक इस रोड को चार से छह लेन बनाने का प्लान बनाया। तय किया गया कि इस प्रोजेक्ट पर आने वाला खर्च तीनों विभाग मिलकर उठाएंगे। हालांकि , बाद में आवास विकास परिषद ने इस प्रोजेक्ट से खुद को अलग कर लिया।
    तीसरा प्लान : बाद में जीडीए , नोएडा और ग्रेटर नोएडा ने एनएच -24 को यूपी गेट से लाल कुंआ तक आठ लेन करने का प्रस्ताव तैयार किया। तय किया गया कि इस प्रोजेक्ट पर आने वाले खर्च की भरपाई के लिए रोड के पास की जमीन का लैंड यूज ग्रुप हाउसिंग किया जाएगा। इससे होने वाली इनकम से रोड को चौड़ा किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट पर 227 करोड़ रुपये खर्च होने थे।
    चौथा प्लान : जीडीए , नोएडा और ग्रेटर नोएडा ने यूपी गेट से इंदिरापुरम के सीआईएसफ कट तक रोड को एलिवेटिड करने का प्लान भी बनाया था।
    पांचवां प्लान : इसके तुरंत बाद एनएचएआई ने इस प्रोजेक्ट को यूपी गेट से डासना टोल तक आठ लेन चौड़ा करने के लिए 285 करोड़ रुपये का एस्टीमेट बनाया। टेंडर डिमांड भी कर लिए। बाद में इस प्रोजेक्ट को चार से केवल छह लेन तक चौड़ा करने के लिए 187 करोड़ रुपये का एस्टीमेट बनाया। यह प्लान भी अधर में लटका हुआ है।
    एनएच -58 का प्लान भी अटका
    एनएच -58 को चार से छह लेन तक चौड़ा करने का प्लान पीडब्ल्यूडी ने पिछले तीन साल में केवल एक बार बनाया। एस्टीमेट बना था 168 करोड़ रुपये का। इस रोड के गाजियाबाद से मेरठ तक के हिस्से का रखरखाव पीडब्ल्यूडी करता है। पीडब्ल्यूडी के इस प्रस्ताव को एनएचएआई ने रद्द कर दिया था।
    प्लान खारिज करने का तर्क
    तर्क दिया गया कि चूंकि दिल्ली - टु - मेरठ एक्सप्रेसवे बनाने का प्रस्ताव है और एक्सप्रेसवे बन जाने के बाद एनएच -58 पर मेरठ तक ट्रैफिक का दबाव करीब 60 पर्सेंट तक कम हो जाएगा , लिहाजा एनएच -58 को 6 लेन करने की जरूरत नहीं है।
    जीडीए ने उठाया था कदम
    जीडीए ने इस रोड को मोदीनगर तक चौड़ा करने का प्लान बनाया था , लेकिन इसके लिए उसने कभी एस्टीमेट तक नहीं बनाया। बाद में मोदीनगर में छह किलोमीटर तक एनएच -58 रोड को चार से छह लेन तक चौड़ा करने के जीडीए के तत्कालीन चीफ इंजीनियर एस . के . गर्ग के प्रस्ताव पर अमल किया गया। इस प्रोजेक्ट पर जीडीए ने 46 करोड़ रुपये खर्च किए।
    CommentQuote
  • हिंडन के तीसरे पुल पर इसी महीने बनेगी सड़क!

    मौसम ने साथ दिया तो 25 दिसंबर तक यह काम पूरा हो सकता है।
    ए. के. गुप्ता
    इग्जेक्यूटिव इंजीनियर
    जीडीए
    एनबीटी न्यूज॥ जीटी रोड
    आने वाले दिनों में अगर बारिश नहीं हुई तो यहां हिंडन नदी पर निर्माणाधीन तीसरे पुल की सड़क तैयार कर ली जाएगी। उसके बाद एप्रोच रोड बनाई जाएगी। जीडीए के इग्जेक्यूटिव इंजीनियर ए. के. गुप्ता ने कहा कि 25 दिसंबर तक यह काम पूरा हो सकता है। गुप्ता ने कहा कि अभी सड़क बनाने के लिए रोलर चलाया जा रहा है। क्या होगा फायदा
    - पुल से दो लेन मेरठ और गाजियाबाद से दिल्ली जाने वालों के लिए
    - एक लेन दिल्ली से इन जगहों की ओर जाने वालों के लिए
    फैक्ट फाइल
    -काम शुरू हुआ - अप्रैल 2011
    -पुल तैयार होने की डेडलाइन : 31 दिसंबर 2012
    -निर्माण की लागत : 32 करोड़ रुपये
    -पुल बनने के बाद जीटी रोड हो जाएगी : कुल 6 लेन
    CommentQuote
  • Hi senior members,

    Any master plan for Noida extension. Any plans for schools and hospitals in Noida extension or you have to depend for basic infra on Greater noida and Noida.

    Hope there is a master plan for Noida Extension. anyone can share a link or upload a picture for the benifit of the group.

    Thanks in advance.
    CommentQuote
  • Attachments:
    CommentQuote
  • ==============================================
    All Buyers meeting on 16th Dec. at 12.00 noon.
    ==============================================
    Dear buyers,
    Apart from old defamed builders others builders have also started harassing existing buyers like us. It is the need of the hour to discuss problems created by builders & their possible solutions in details so that we can make our plan of actions.
    Keeping this in mind all Noida Extension Buyers meeting has been scheduled at Noida Extension Golchakkar on 16th Dec. at 12.00 noon.
    All buyers (effected or unaffected) are requested to attend this meeting.
    Please understand that -
    • We cannot win alone.
    • We cannot win sitting at home.
    • We cannot win without any action.
    • We can win only through our action.
    • Until unless more & more buyers come together a collective action is not possible.
    So wake up guys, join this meeting and help in carving out the plan of actions and its implementation.
    "Others are fighting then what is the need of mine.. there will be no difference with my presence" -- please avoid such attitude and participate with us.

    Meeting details are :
    Time: 16th Dec. at 12.00 noon
    Venue: Noida Extension Gol Chakkar (Gaur City Circle)
    Agenda : Open agenda but related to buyers problem and the solution.

    --- TEAM NEFOWA
    CommentQuote
  • All Buyers meeting on 16th Dec. at 12.00 noon.

    All Buyers meeting on 16th Dec. at 12.00 noon.
    Attachments:
    CommentQuote
  • Originally Posted by vijay.dhiman
    All Buyers meeting on 16th Dec. at 12.00 noon.




    Today I got final cancelation letter from Amrapali.
    For Amrapali Dream Valley

    I have paid booking amount only.
    CommentQuote
  • Originally Posted by delphy03
    Today I got final cancelation letter from Amrapali.
    For Amrapali Dream Valley

    I have paid booking amount only.



    Any particular reason you didnt pay the balance? You wanted to cancel the booking?
    CommentQuote