पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • Visited 3 property constultants of CR today.

    I asked whether any RTM is available at 2500 psft as DG is a reality now... ;)

    Guess what they said:

    1. sir there will be no DG. No work is happening...Its just a fake news...
    2. SC has put a stay order for DG so work cant start.
    3. Resale market is very steady and rates will increase more than NE in coming 6 months.
    4. CROMA is very strong body, and they wont allow it.

    And few of the classics:
    Sir I also have my investment here. Will not allow DG to come at any cost. DG will come over my dead body. Dont worry. You can buy anyday here.

    Rgds
    CommentQuote
  • Originally Posted by realestate00
    Visited 3 property constultants of CR today.

    I asked whether any RTM is available at 2500 psft as DG is a reality now... ;)

    Guess what they said:

    1. sir there will be no DG. No work is happening...Its just a fake news...
    2. SC has put a stay order for DG so work cant start.
    3. Resale market is very steady and rates will increase more than NE in coming 6 months.
    4. CROMA is very strong body, and they wont allow it.

    And few of the classics:
    Sir I also have my investment here. Will not allow DG to come at any cost. DG will come over my dead body. Dont worry. You can buy anyday here.

    Rgds


    If someone want to save rent for time being and want to invest somewhere else , he/she can stay on rent in CR till DG won't start.
    CommentQuote
  • Visited noida expressway for the first time. After investing in nex, i was comparing noida expressway to nex today. (143, 168, 137

    Noida expressway do hv load of commercial proposed or already operational. Tabhi 1000rs ka fark hai.

    Baki kuch jada kaas nhi laga.
    Distance from dnd to noida extn = distnce to expressway 137,143
    Nex is closest to ghaziabad, close to noida n nt far from delhi.

    Nex is not at all bad.
    CommentQuote
  • Originally Posted by realestate00
    Visited 3 property constultants of CR today.

    I asked whether any RTM is available at 2500 psft as DG is a reality now... ;)

    Guess what they said:

    1. sir there will be no DG. No work is happening...Its just a fake news...
    2. SC has put a stay order for DG so work cant start.
    3. Resale market is very steady and rates will increase more than NE in coming 6 months.
    4. CROMA is very strong body, and they wont allow it.

    And few of the classics:
    Sir I also have my investment here. Will not allow DG to come at any cost. DG will come over my dead body. Dont worry. You can buy anyday here.

    Rgds

    Bhai ye dead body wala kaun hai iska naam bhi likh do yaha ... :D
    CommentQuote
  • Originally Posted by Sunder_Lal
    Bhai ye dead body wala kaun hai iska naam bhi likh do yaha ... :D


    I was tempted to but refrained myself somehow.:bab (59):Dont push me bro. But 90% fall into the same category so why to pinpoint anyone.:D
    CommentQuote
  • Originally Posted by Pradyot1315sqf
    Earth ka koi bhi project Earth pe succesful nahi hai. Wo haven pe Haven ke naam se ek project launch kar rahe hai. le lo. abhi soft launch pe hai.



    bhai aaj tak maine kisi bhi buyer se is project ki taarif nahi suni.... aaaisa kya babaaaala machaaya hua hai is builder ne... NEFOMA waaloon ne is ke maalik to NOIDA ke DM se rubarooo bhi karwwaya hua hai...

    kuch toh baat hai is main....
    CommentQuote
  • NEFOMA update for Brave Girl

    Today we all members of NEFOWA express our deepest condolence on the departure of the brave girl 'Damini'. May God give peace to her soul. NEFOWA also convey message to her family members that 'We are with the bereaved family and we pledge that her loss will not be left barren. The whole society is some what responsible for this loss. We appeal to all the citizen that the movement for the safety, security & respect for women which has began after the tragic incident be continued so that such type of incident be not repeated any more. Each individual will have to take responsibility and initiative for a safer society for women.

    This tragic incident has jolted us a lot. We take pledge to make India a iconic country where our women are safe, respectful and free of any fear.

    The sacrifice of 'Damini' has left a question for all of us -
    'Will every person put a step ahead to change the society and the system ???'

    NEFOWA family
    CommentQuote
  • मांगों को लेकर किसान आज करेंगे महापंचायत

    ग्रेटर नोएडा : ग्रेनो एक्सटेंशन एरिया के किसान भी जमीन अधिग्रहण के विरोध मंे उठ खडे़ हुए हैं। किसानों ने फैसला किया है कि भूमि अधिग्रहण बिल लोकसभा में पास होने तक नही जमीन अधिग्रहण नहीं करने देंगे। किसानांे ने अपनी दस सूत्रीय मांगों को लेकर रविवार को चिटहरा गांव में महापंचायत करने का ऐलान किया है। इसमें चिटहरा, दतावली, बढ़पुरा, धूममानिकपुर, नरौली समेत दर्जनों गांवों के किसान शामिल होंगे। किसान मंच के नेता और महापंचायत के संयोजक सुनील फौजी ने बताया कि किसानांे की दस मांगांे को लेकर किसानों ने डीएम को ज्ञापन सौंपा था। इसमें किसानों ने डीएम को शनिवार तक का समय दिया था। अब तक मांगों पर कार्रवाई नहीं हुई। उन्होंने बताया कि महापंचायत में अधिक से अधिक किसानों को शामिल करने के लिए यूपीएसआईडीसी से प्रभावित गांवों में जन जागरण अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि किसानों की मांग है कि लोकसभा में भूमि अधिग्रहण बिल पास होने और सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने तक सभी निर्माण कार्य बंद कराए जाएं।
    CommentQuote
  • hi all...

    got news of DG in CR....really bad.

    but plz someone point the implications of the same on NE....and particulary the nearby projects of NE....

    how far can be considered as safe living from a DG.

    seniors pls comment.
    CommentQuote
  • Earth buyers meeting

    CommentQuote
  • MAHAGUN Mywoods latest pics

    CommentQuote
  • MAHAGUN Mywoods latest pics

    CommentQuote
  • MAHAGUN Mywoods latest pics

    CommentQuote
  • MAHAGUN Mywoods latest pics

    CommentQuote
  • Wow Shahrukh , jab tak hai jaan..
    CommentQuote