पतवाड़ी के किसानों का लिखित समझौता
जागरण संवाददाता, ग्रेटर नोएडा किसानों के साथ समझौते की दिशा में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को बृहस्पतिवार को बड़ी सफलता हासिल हुई। पतवाड़ी गांव के किसानों के साथ प्राधिकरण का समझौता हो गया। इससे बिल्डरों व निवेशकों को बहुत बड़ी राहत मिली है। समझौता भी किसानों के लिए फायदेमंद रहा। उन्हें अब 550 रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त मुआवजा देने पर सहमति बन गई है। साथ ही आबादी व बैकलीज की शर्तो को हटा लिया गया है। हालांकि नोएडा के सेक्टर-62 में गुरुवार को देर रात तक अन्य मुद्दों पर प्राधिकरण व किसानों के बीच बातचीत जारी थी। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 19 जुलाई को पतवाड़ी गांव की 589 हेक्टयेर जमीन का अधिग्रहण रद कर दिया था। अधिग्रहण रद होने से सात बिल्डरों के प्रोजेक्ट प्रभावित हुई हुए थे। 26 हजार निवेशकों के फ्लैट का सपना भी टूट गया था। प्राधिकरण के ढाई हजार भूखंड़ों, चार सौ निर्मित मकानों व दो इंजीनियरिंग कॉलेज की योजना भी अधर में लटक गई थी। 26 जुलाई को हाईकोर्ट ने नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों की सुनवाई के दौरान प्राधिकरण, बिल्डर व किसानों को 12 अगस्त तक आपस में समझौते करने का सुझाव दिया था। हाईकोर्ट के सुझाव पर प्राधिकरण ने किसानों से समझौते के लिए वार्ता की पहल शुरू की। 27 जुलाई को प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन ने सबसे पहले पतवाड़ी गांव के प्रधान को पत्र भेज कर वार्ता करने के लिए आमंत्रित किया। दूसरे दिन ग्राम प्रधान रेशपाल यादव ने प्राधिकरण कार्यालय पहुंच कर सीईओ से बातचीत कर उनका रुख जानने का प्रयास किया था। 30 जुलाई को सीईओ ने गांव पतवाड़ी जाकर किसानों से सामूहिक रूप में बात की। इस दौरान मुआवजा वृद्धि को छोड़कर किसानों के साथ अन्य मांगों पर प्राधिकरण ने सकारात्मक रुख दिखाया। मुआवजा बढ़ोतरी पर बातचीत करने के लिए किसानों को आपस में कमेटी गठित कर वार्ता का प्रस्ताव सीईओ दे आए थे। इसके बाद किसानों के साथ गुरुवार को नोएडा के सेक्टर-62 में बैठक बुलाई गई। इसमें प्राधिकरण के सीईओ रमा रमन, ग्रामीण अभियंत्रण मंत्री जयवीर ठाकुर, सांसद सुरेंद्र सिंह नागर व जिलाधिकारी के साथ किसानों की वार्ता शुरू हुई। आठ घंटे तक वार्ता चलने के बाद किसान समझौते के लिए तैयार हो गए। सूत्रों के अनुसार पतवाड़ी गांव के किसानों को मिले 850 रुपये प्रति वर्गमीटर के अलावा 550 रुपये प्रति वर्गमीटर और देने पर सहमति बन गई है। देर रात तक बैठक जारी थी। अभी इसकी अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। हालांकि गांव के कुछ किसानों ने वार्ता की पुष्टि की है। इससे पूर्व किसानों की आबादी को पूरी तरह से अधिग्रहण मुक्त रखा जाएगा। बैकलीज की शर्ते हटा ली जाएगी। पतवाड़ी गांव का समझौता होने पर प्राधिकरण को नोएडा एक्सटेंशन के अन्य गांवों में किसानों के साथ समझौता करने की राह आसान हो गई है। नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने रोके खरीददार : नोएडा एक्सटेंशन विवाद ने समूचे ग्रेटर नोएडा एवं यमुना एक्सप्रेस वे प्राधिकरण क्षेत्र में संपत्तियों की खरीद-फरोख्त पर ब्रेक लगा दिया है। दोनों जगह ढूंढे से भी खरीददार नहीं मिल रहे हैं। कुछ समय पहले तक जो लोग शहर में अपना आशियाना बनाने के लिए आतुर थे, वे अब यहां संपत्ति खरीदने से हिचकिचा रहे हंै। पिछले बीस दिनों में भूखंड व मकानों की गिनी-चुनी रजिस्ट्री हुई हैं। सिर्फ गांवों में कृषि व आबादी भूमि की रजिस्ट्री हो रही है। इससे प्रदेश सरकार को राजस्व की भी हानि उठानी पड़ रही है
-Dainik Jagran.
Read more
Reply
16355 Replies
Sort by :Filter by :
  • Originally Posted by ManGupta
    only issue is that ......

    Greedy builders will make 30 floors on the foundation made for 20-24 floors.


    There will not be any increase on towers height in which construction has been started.
    CommentQuote
  • Originally Posted by ManGupta
    Why are people are surprised at this news. We all saw it coming long back. It is only OFFICIALLY announced now. But this news was discounted (FAR of 3.5 in NE ) long back.

    We won't be even surprised when FAR of Noida Expressway will be increased to 3.5 on the pretext of Metro (khayali Pulaw).


    Har jagah builders ki balle balle. nex ho ya n exp.
    kuch indirapuram ki tarah hoga kya?
    CommentQuote
  • Originally Posted by ncounter
    There will not be any increase on towers height in which construction has been started.

    how can you be soo sure that they wont do this....at last they are here to make money :(
    CommentQuote
  • Originally Posted by del_sanju
    Har jagah builders ki balle balle. nex ho ya n exp.
    kuch indirapuram ki tarah hoga kya?


    Bhaai Indirapuram mein khade hoke to aasmaan bhi dikhaai ni padta.
    CommentQuote

    Originally Posted by ekthatiger
    how can you be soo sure that they wont do this....at last they are here to make money :(


    Read whole post and be happy for the moment. Reality to time hi batayega.
    Noida Extension 3.5 FAR is approved. Now 1 lakh flats more in Noida Extension - JustProp Indian Real Estate Forum
    CommentQuote
  • Wat is possession date for Gaur city 1.

    On Fb i saw it is end of 2014 officially by gaur. I think they can do it easily
    CommentQuote
  • Originally Posted by del_sanju
    Wat is possession date for Gaur city 1.

    On Fb i saw it is end of 2014 officially by gaur. I think they can do it easily


    What is the premium going on for Gaur City 1.
    CommentQuote
  • Originally Posted by del_sanju
    Har jagah builders ki balle balle. nex ho ya n exp.
    kuch indirapuram ki tarah hoga kya?



    No.. Worse.... Tab DENSITY ki nayi definition create ho jayega aur Indirapuram Low-Density area classified ho jayega.
    CommentQuote
  • Originally Posted by ManGupta
    No.. Worse.... Tab DENSITY ki nayi definition create ho jayega aur Indirapuram Low-Density area classified ho jayega.


    I think this increase far impact wud b differnt for diff builders.
    Gaur city jaise project me pahle se hi kafi open spaces tha toh itna fark nhi padega. Also already constructn kafi ho rakhi hai. GC 1 is structure is almost ready. GC16 n gc 11 me bhi as per gaur far wont effect.
    For sure gc12 me hoga with other new GC launched. Toh existing walo ko jada fark nhi padega if they their gc only.
    CommentQuote
  • ab sharma ji verona heights mein 44 floor bana denge kya 34 ki jagah pe ? kahin towers gir naa jayen saamne wale villas pe .. leisure valley buyers be careful ! :D
    CommentQuote
  • Originally Posted by trialsurvey
    ab sharma ji verona heights mein 44 floor bana denge kya 34 ki jagah pe ? kahin towers gir naa jayen saamne wale villas pe .. leisure valley buyers be careful ! :D


    Banne to do.. pehle :bab (59):
    CommentQuote
  • Originally Posted by trialsurvey
    ab sharma ji verona heights mein 44 floor bana denge kya 34 ki jagah pe ? kahin towers gir naa jayen saamne wale villas pe .. leisure valley buyers be careful ! :D


    ab bechaarey supernova ke 80 floors ko kaun poochega... NEX main to har dossri building 40+ khud hi hogi and at 1/3 rate ;)
    CommentQuote
  • Originally Posted by del_sanju
    I think this increase far impact wud b differnt for diff builders.
    Gaur city jaise project me pahle se hi kafi open spaces tha toh itna fark nhi padega. Also already constructn kafi ho rakhi hai. GC 1 is structure is almost ready. GC16 n gc 11 me bhi as per gaur far wont effect.
    For sure gc12 me hoga with other new GC launched. Toh existing walo ko jada fark nhi padega if they their gc only.



    Okey for the sake of argument I agree that Raja Harischand Builders will not temper their existing towers and only increase height in FUTURE DEVELOPEMENT AREAS ONLY.

    Even then it will put enormous pressure on Common areas / infrastructure / facilities within the Gated Complex.

    You know that while signing NOC ... Gaur Office looked like an Government camp.

    Then imagine ..... after RTM ...... how much effort you will have to make to the maintenance agency / RWA ...... to complaint about the leaking pipe / walls in your apartment. ..........

    ......... maintenance agency / RWA will be like any other Deaf Government Body.
    CommentQuote
  • Originally Posted by ver_amit
    ab bechaarey supernova ke 80 floors ko kaun poochega... NEX main to har dossri building 40+ khud hi hogi and at 1/3 rate ;)



    Supernova bhi to 140 floors ka ho jayegaa ...... aakhir ...... Aroraji is little more lalchi than Sharmaji.
    CommentQuote
  • Originally Posted by ManGupta
    Supernova bhi to 140 floors ka ho jayegaa ...... aakhir ...... Aroraji is little more lalchi than Sharmaji.


    ab ye kathor satya suna nahin jaata.. m going to sleep gn guys
    CommentQuote