ग्रामीण आवास में उतरेगा सहारा

सहारा इंडिया समूह ग्रामीण हाउसिंग क्षेत्र में उतरने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए समूह ने अध्ययन कराया है। समूह की रियल्टी शाखा सहारा इन्फ्रास्ट्रक्चर ऐंड हाउसिंग की छोटे और मझोले शहरों में उतरने के बाद सस्ते मकान के क्षेत्र में उतरने की यह एक और कोशिश है।

समूह के चेयरमैन सुब्रत राय सहारा ने कहा, 'भविष्य में हम ग्रामीण हाउसिंग परियोजनाएं शुरू करेंगे, जिसके लिए पहले से ही बातचीत चल रही है।' हालांकि उन्होंने इसके बारे में विस्तार से बताने से इनकार किया है।

कंपनी सस्ते मकान बनाने की कड़ी में देश भर के 367 शहरों में 1,228 परियोजनाओं के माध्यम से 22,000 एकड़ जमीन पर 20 लाख मकान बनाने पर काम कर रही है।

हाउसिंग परियोजनाओं में हो रही देरी के बारे में उन्होंने कहा कि कुछ विशेष चुनौतियों की वजह से देरी होती है। इसमें जमीन का संकट, बड़े पैमाने पर विभागों से अनुमति (करीब 48) लेना और पर्यावरण संबंधी मंजूरी शामिल है।

उन्होंने कहा, 'हमें पश्चिम बंगाल में भूमि अधिग्रहण में खासी समस्या हो रही है। इसके चलते हमने शुरुआती निवेश के बाद कुछ परियोजनाएं रोक दीं। बहरहाल अब हम खडग़पुर और सिलीगुड़ी में परियोजनाओं पर काम कर रहे हैं।'

कंपनी ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद के लिए बड़ी योजना बनाई है।


ग्रामीण आवास में उतरेगा सहारा
Read more
Reply
8 Replies
Sort by :Filter by :
  • Originally Posted by fritolay_ps
    ग्रामीण आवास में उतरेगा सहारा

    सहारा इंडिया समूह ग्रामीण हाउसिंग क्षेत्र में उतरने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए समूह ने अध्ययन कराया है। समूह की रियल्टी शाखा सहारा इन्फ्रास्ट्रक्चर ऐंड हाउसिंग की छोटे और मझोले शहरों में उतरने के बाद सस्ते मकान के क्षेत्र में उतरने की यह एक और कोशिश है।

    समूह के चेयरमैन सुब्रत राय सहारा ने कहा, 'भविष्य में हम ग्रामीण हाउसिंग परियोजनाएं शुरू करेंगे, जिसके लिए पहले से ही बातचीत चल रही है।' हालांकि उन्होंने इसके बारे में विस्तार से बताने से इनकार किया है।

    कंपनी सस्ते मकान बनाने की कड़ी में देश भर के 367 शहरों में 1,228 परियोजनाओं के माध्यम से 22,000 एकड़ जमीन पर 20 लाख मकान बनाने पर काम कर रही है।

    हाउसिंग परियोजनाओं में हो रही देरी के बारे में उन्होंने कहा कि कुछ विशेष चुनौतियों की वजह से देरी होती है। इसमें जमीन का संकट, बड़े पैमाने पर विभागों से अनुमति (करीब 48) लेना और पर्यावरण संबंधी मंजूरी शामिल है।

    उन्होंने कहा, 'हमें पश्चिम बंगाल में भूमि अधिग्रहण में खासी समस्या हो रही है। इसके चलते हमने शुरुआती निवेश के बाद कुछ परियोजनाएं रोक दीं। बहरहाल अब हम खडग़पुर और सिलीगुड़ी में परियोजनाओं पर काम कर रहे हैं।'

    कंपनी ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद के लिए बड़ी योजना बनाई है।


    ग्रामीण आवास में उतरेगा सहारा


    Please clarify where noida is mentioned in this news. This is for greate noida and ghaziabad isnt ?
    CommentQuote
  • Noida has no scope for budget homes......
    CommentQuote
  • It is possible if govt. gives free land to developer in Noida which does not seem to be feasible. With current land rate min price will be 3500(AI).


    Regards
    CommentQuote
  • Are they planning to make another Aamby Valley in Noida and sell them at budget price? Risky to enter Noida at this time....
    CommentQuote
  • I was watching business news and as per news... Sahara will make low cost house in NCR/Noida/Gurgaon/G.Noida/Ghaziabad in headlines..than I search on net
    CommentQuote
  • Amby Valley is the best project in India...spread over 10,000 acres...close to 2000 employees and 10-20 families to live...in rainy season...it almost looks like on the top of heaven

    on a seperate note...I wonder who imagines these numbers...कंपनी सस्ते मकान बनाने की कड़ी में देश भर के 367 शहरों में 1,228 परियोजनाओं के माध्यम से 22,000 एकड़ जमीन पर 20 लाख मकान बनाने पर काम कर रही है। ...

    Im very sure ...they just write it to give it a big feel
    CommentQuote
  • Sahara has big land bank in Dwarka expressway .

    And will be launching soon.
    CommentQuote
  • Update......
    Attachments:
    CommentQuote