IREF® Real Estate in India - Property Discussion
Revert to old theme

Download our app now !

Reply
25Likes

Impact of SP Govt on Noida Real Estate
April 17 2012 , 01:22 PM   #231
Veteran Member

Cookie's Avatar
 
Join Date: Dec 2010
Location: Planet Earth
Posts: 17,978
Likes Received: 3057
My Mood: Angelic

Quote:
Originally Posted by maxcapri
A bit too optimistic?? Isntit??
No not bit, its too much.
__________________
Thanks
April 17 2012 , 04:17 PM   #232
Veteran Member

rajesh_vsworx's Avatar
 
Join Date: May 2010
Location: Noida
Posts: 1,030
Likes Received: 387
My Mood: Fine

http://timesofindia.indiatimes.com/i...w/12702191.cms


WASHINGTON: India-focused American companies are developing the "agenda for progress" for Uttar Pradesh with the objective of its all-inclusive and dynamic growth, the US India Business Council(USIBC) has said. The "agenda for progress", tailored made for the state, is being prepared at the request of Uttar Pradesh chief minister Akhilesh Yadav.

It would be developed within the first 100 days of the Samajwadi Party government in Uttar Pradesh by USIBC, which is the apex body of American companies doing business in India.

"Once Yadav fine tunes the agenda, USIBC will launch a major high-level executive mission to Uttar Pradesh to begin implementation," USIBC president Ron Somers said.

"I look forward to working with this forward-thinking chief minister to help achieve his goal of creating jobs and prosperity for the people of this great state," said Somers, who had met Yadav within the very first week of him taking over as the chief minister.

Somers said he discussed the development priorities for the state, where American investment would be welcome.

These areas include farming best practices; agricultural development, food processing, water development for drinking, irrigation, and treatment; connectivity - including by air, by roads, and via the internet.

Other areas include health care development, vocational skills development; manufacturing - with an emphasis on Job creation and energy and power development
. "American companies are keen to invest in all these sectors - so long as the business environment is welcoming," he said
VedKapoor likes this.
April 18 2012 , 05:07 AM   #233
Veteran Member

fritolay_ps's Avatar
 
Join Date: Mar 2010
Location: Singapore
Posts: 12,748
Likes Received: 1677
My Mood: Amused

लखनऊ में बनेगी आईटी सिटी!

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की एक महीने पुरानी सरकार ने राज्य में सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) क्षेत्र को प्रोत्साहन देने संबंधी अपने वादे पर अमल की दिशा में कदम बढ़ाना शुरू कर दिया है। प्रदेश सरकार लखनऊ में 100 एकड़ जमीन पर 'आईटी सिटी' विकसित करने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है। इस विशेष परियोजना के लिए शहर के बाहरी इलाके में जमीन चिह्नित कर ली गई है, जहां आधुनिक बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी।

बड़े पैमाने पर आईटी संबंधी बुनियादी ढांचा उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम (यूपीएसआईडीसी) की जमीन पर तैयार किया जाएगा, जो लखनऊ-सुल्तानपुर राजमार्ग पर है। उत्तर प्रदेश बुनियादी ढांचा एवं औद्योगिक विकास आयुक्त (आईआईडीसी) अनिल कुमार गुप्ता ने बिजनेस स्टैंडर्ड से कहा, 'मैं आईटी कंपनियों को तमाम सुविधाओं की पेशकश करुंगा, जिनमें होटल, समर्पित बिजली और हवाई अड्डे से सीधा संपर्क शामिल है।' उम्मीद जताई जा रही है कि इस सप्ताह के अंत तक यह प्रस्ताव राज्य के मुख्य सचिव के पास भेजा जाएगा। राज्य सरकार ने आईटी नीति का मसौदा तैयार करने के लिए पहले से ही केपीएमजी का चयन कर रखा है, जो इस महीने की 30 तारीख तक अपनी रिपोर्ट सौंप सकती है।

आईटी नीति को अंतिम रूप देने से पहले एक महीने उन तमाम महकमों से विचार-विमर्श किया जाएगा। प्रदेश सरकार लखनऊ और आगरा को आईटी केंद्र के रूप में विकसित करना चाहती है और इसके दम पर राज्य में आईटी एवं आई से जुड़ी सेवाओं समेत इलेक्ट्रॉनिक्स क्षेत्र को बढ़ावा देने की मंशा रखती है। गुप्ता ने कहा, 'हम संबंधित लोगों एवं विभागों और आईटी उद्योग के प्रतिनिधियों के साथ विचार-विमर्श करेंगे ताकि हमारी नीति आधुनिक दौर की जरूरतों के मुताबिक तैयार हो सके क्योंकि इस क्षेत्र का मिजाज तेजी से बदल रहा है।'

Business standard
April 18 2012 , 05:08 AM   #234
Veteran Member

fritolay_ps's Avatar
 
Join Date: Mar 2010
Location: Singapore
Posts: 12,748
Likes Received: 1677
My Mood: Amused

'Civic projects are high on govt agenda'


NOIDA: Reassuring residents that the development of Noida and Greater Noida is of great importance to the new SP government, minister of state for protocol, Abhishek Mishra said that the government will tackle all infrastructure projects initiated in Noida on a priority basis.

Speaking at a function to mark the 37th foundation day of the city, Mishra urged Noida Authority and residents to work together towards making Noida a world-class city. "The city successfully hosted the first Formula One race in India and won accolades from all quarters. It must achieve the number one spot in terms of infrastructure development as well," Mishra said.

"Noida is the highest revenue earner for the state and contributed around 25 per cent of the state GDP last year. Hence, the residents as well as the authorities must realize that the development of the city is a matter of priority for the state government," he added.

"We must stress on all aspects that will make the city FIRST, viz., Finance, Infrastructure, Resources, Software, and Technology," Mishra said.

TOI
April 18 2012 , 05:20 AM   #235
Veteran Member

fritolay_ps's Avatar
 
Join Date: Mar 2010
Location: Singapore
Posts: 12,748
Likes Received: 1677
My Mood: Amused

अमेरिकी कंपनियों का अजेंडा यूपी की तरक्की

वॉशिंगटन
भारत पर फोकस्ड
अमेरिकी कंपनियां अब उत्तर प्रदेश के विकास को अपना अजेंडा बना रही हैं। यूएस इंडिया बिजनेस काउंसिल (यूएसआईबीसी) का कहना है कि इससे राज्य का तेजी से समग्र विकास सुनिश्चित हो सकेगा।

भारत में बिजनेस कर रहीं अमेरिकी कंपनियों की सर्वोच्च संस्था यूएसआईबीसी के प्रेजिडेंट रॉन सोमर्स ने कहा कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आग्रह पर यह अजेंडा बनाया जा रहा है, जो एसपी सरकार आने के 100 दिन के अंदर पूरा हो जाएगा। सीएम की ओर से हरी झंडी मिलते ही बड़े पैमाने पर अमल शुरू कर दिया जाएगा। सोमर्स ने कहा कि मैंने मुख्यमंत्री से उन क्षेत्रों के बारे में चर्चा की है, जिनमें अमेरिकी निवेश हो सकता है। इनमें खेतीबाड़ी, कृषि विकास, फूड प्रोसेसिंग, पेयजल, सिंचाई, हवाई व सड़क संपर्क बढ़ाना और इंटरनेट की पहुंच बढ़ाना शामिल है। इनके अलावा, स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार, रोजगारपरक कार्यक्रम चलाना और बिजली उत्पादन जैसे क्षेत्रों में भी अमेरिकी कंपनियों की रुचि है। इससे इन क्षेत्रों में नई नौकरियां पैदा होंगी।

सोमर्स ने कहा कि मुलायम सिंह की वजह से भारत और अमेरिका पहले से कहीं ज्यादा करीब आ गए हैं। अखिलेश भारत की यंग आबादी के प्रतिनिधि हैं, जो बदलाव और तरक्की चाहते हैं।
-nbt
Choose theme from here -
LinkBack
LinkBack URL LinkBack URL
About LinkBacks About LinkBacks